पकड़े गये लुटेरों के पास से पुलिस ने हत्या में प्रयुक्त कुल्हाड़ी की बरामद…

आरोन पुलिस ने चरवाहे के अंधेकत्ल का किया पर्दाफाश, दो बदमाश गिरफ्तार

ग्वालियर। ग्वलियर पुलिस द्वारा पुलिस अधीक्षक ग्वालियर अमित सांघी के निर्देषानुसार ग्वालियर जिले में फरार आरोपियों के विरूद्ध प्रभावी कार्यवाही की जा रही है। दिनांक 12.07.2022 को जरिए मुखबिर सूचना प्राप्त हुई कि थाना आरोन में चरवाहे की हत्या के प्रकरण में फरार दो आरोपियों को थाना घाटीगांव क्षेत्रांर्तगत हुकुमगढ़़ के पास देखा गया है। मुखबिर की सूचना पर से पुलिस अधीक्षक ग्वालियर द्वारा अति. पुलिस अधीक्षक(षहर-पष्चिम) अभिनव चैकसे को थाना आरोन पुलिस बल की टीम बनाकर उक्त प्रकरण में फरार आरोपियों को पकड़ने हेतु मुखबिर के बताये स्थान पर भेजने हेतु निर्देष किया गया। वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देषों के परिपालन में एसडीओपी घाटीगांव हिना खान के मार्गदर्षन मंे थाना प्रभारी आरोन उनि. शत्रुद्यन मिश्रा एवं थाना प्रभारी घाटीगांव उनि. शैलेन्द्र सिंह गुर्जर के नेतृत्व में थाना आरोन व घाटीगांव पुलिस बल की टीम को थाना घाटीगांव क्षेत्रांर्तगत हुकुमगढ़ भेजा गया। 

पुलिस टीम द्वारा घेराबंदी कर मुखबिर के बताये स्थान से दो बदमाषों को धरदबोच लिया गया। पकड़े गये बदमाषों से पूछताछ करने पर उनके द्वारा चरवाहे की हत्या कर बकरियां लूट कर ले जाने की घटना कारित करना स्वीकार किया। पुलिस टीम द्वारा पकड़े गये आरोपीगणों की निषादेही पर उनके पास से हत्या में प्रयुक्त कुल्हाड़ी को विधिवत जप्त किया गया। पकड़े गये बदमाषांे में से एक बदमाष कुख्यात डकैत बदना बंजारा गैंग का सदस्य भी रह चुका है, जिस पर थाना आरोन, घाटीगांव, पनिहार एवं जिला श्योपुर में हत्या, हत्या का प्रयास, अपहरण एवं आम्र्स एक्ट के मामले दर्ज थे, हत्या व अपहरण के प्रकरणों में इसे 20 वर्ष के कारावास की सजा भी हो चुकी है। उक्त बदमाष पर थाना आरोन व घाटीगांव के प्रकरणों में फरार होने की वजह से तत्समय एसपी ग्वालियर द्वारा ईनाम भी घोषित किया गया था। 

पुलिस अधीक्षक ग्वालियर द्वारा थाना आरोन के अप.क्र. 62/22 धारा 302,397 भादवि 11/13 एमपीडीपीके एक्ट में अज्ञात आरोपियों की गिरफ्तारी पर 10 हजार रूपये का ईनाम घोषित किया गया था। पुलिस टीम द्वारा उक्त दोनों आरोपीगणों को थाना आरोन के अप.क्र. 62/22 धारा 302,397 भादवि 11/13 एमपीडीपीके एक्ट में गिरफ्तार किया जाकर उनसे लूट कर ले जाई गई बकरियों के संबंध में पूछताछ की जा रही है। ज्ञात हो कि दिनांक 04.07.2022 को थाना आरोन पुलिस को सूचना प्राप्त हुई कि थाना आरोन क्षेत्रांर्तगत मुन्ना की तलैया का जंगल बेरखेड़ा पर एक अज्ञात व्यक्ति की लाष पड़ी हुई है उक्त सूचना पर से थाना आरोन पुलिस द्वारा घटनास्थल पर पहुंच कर मर्ग 06/22 धारा 174 जाफौ कायम करते हुए उक्त शव को पीएम हेतु जेएएच भेजा गया। दौराने जांच मृतक की षिनाख्त महेन्द्र आदिवासी निवासी ग्राम बेलखेड़ा थाना आरोन के रूप में हुई। 

पुलिस को मृतक के परिवारजनों के कथन, पीएम रिपोर्ट व मर्ग जांच में आये तथ्यांे के आधार ज्ञात हुआ कि दिनांक 01.07.2022 को मृतक बकरियां चराने मुन्ना की तलैया का जंगल बेरखेड़ा गया था। जहां कुछ अज्ञात लूटेरों द्वारा हथियार के जरिये पीछे से मृतक पर हमला कर उसकी बकरियों को लूट लिया गया। इन तथ्यों के आधार पर थाना आरोन पुलिस द्वारा दिनांक 06.07.2022 को अज्ञात लुटेरों के विरूद्ध अप. क्र. 62/22 धारा 302,397 भादवि 11/13 एमपीडीपीके एक्ट का प्रकरण पंजीबद्ध कर आरोपियों की तलाष की जा रही थी। सराहनीय भूमिकाः उक्त कार्यवाही में थाना प्रभारी आरोन उनि. शत्रुद्यन मिश्रा, थाना प्रभारी घाटीगांव उनि. शैलेन्द्र सिंह गुर्जर, उनि. राहुल सैंधव, थाना आरोन टीम से- सउनि. पी.डी. मिंज, रामप्रसाद, प्रआर. गोपीचंद, आर. अमर सिंह, छोटे साहब गुर्जर, लखन सिंह सिरोठिया, थान सिंह की सराहनीय भूमिका रही।