एक बार फिर हुआ कोरोना ब्लास्ट…

बुधवार को ग्वालियर में मिले 87 नए संक्रमित

 

ग्वालियर में बुधवार को एक बार फिर कोरोना ब्लास्ट हुआ है। लंदन से लौटे एक परिवार के पांच सदस्यों समेत 87 नए संक्रमित मिले हैं। जिसके बाद एक्टिव केस बढ़कर 189 हो गए हैं। 6 महीने बाद 100 से ऊपर एक्टिव केस पहुंचे हैं। बुधवार को संक्रमित आने वालों में लंदन से लौटे परिवार के अलावा क्राइम ब्रांच के जवान अफसर, BSF के डॉक्टर सहित पांच जवान संक्रमित मिले हैं।

बुधवार को संक्रमित आने वाले सभी को खांसी, जुकाम था। इसके अलावा दिल्ली, मुम्बई, पंजाब, मेरठ से लौटने वाले भी संक्रमण लेकर लौटे हैं। यदि आपके आसपास कोई बाहर से आया है और उसे सर्दी, खांसी और जुकाम है तो उससे दूरी बनाकर ही रहें और सावधान रहें। क्योंकि अभी तक जिस-जिस को कोरोना निकला है उसको सर्दी, खांसी जुकाम जरुर रहा है। कुछ केस में संक्रमित को सीने में दर्द की भी बात सामने आई है।

बुधवार को स्वास्थ्य विभाग से जारी कोविड रिपोर्ट में 87 लोग पॉजिटिव पाए गए हैं। यह सभी पॉजिटिव स्वास्थ्य विभाग और प्राइवेट जांच लैब में संक्रमित पाए गए हैं। बुधवार को 3382 सैंपल की जांच रिपोर्ट आई है। जिसमें 87 पॉजिटिव आने के बाद एक्टिव केस बढ़कर 103 से 189 हो गए हैं। बुधवार तक ग्वालियर में कुल पॉजिटिव 53401 हो गए हैं। जिले में कुल संदिग्ध व्यक्तियों की संख्या 2845 है। बुधवार को 10 माइक्रो कनटेंनमेंट जोन बनाए गए हैं। बुधवार को 3790 लोगों के सैंपल लिए गए हैं जिनकी रिपोर्ट गुरुवार को आनी है। बुधवार को एक संक्रमित ठीक होकर डिस्चार्ज भी किया गया है।

डीडी नगर निवासी 41 वर्षीय राजेश कुमार (बदला हुआ नाम) 31 वर्षीय पत्नी ममता (बदला हुआ नाम) 6 वर्ष की बेटी प्रिया (बदला हुआ नाम) के साथ 15 दिन पहले लंदन से लौटे हैं। यहां आने पर उनको बुखार आया तो उन्होंने अपने बुजुर्ग माता पिता सहित जांच कराई। बुधवार को सभी पांचों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। सभी को कोरोना की पुष्टि हुई है।

जयारोग्य परिसर निवासी सीनियर महिला डॉक्टर की 31 वर्षीय डॉक्टर बेटी स्वाति (बदला हुआ नाम) भी कोरोना की चपेट में आई हैं। महिला चिकित्सक कुछ दिन पहले ही गोवा से लौटी हैं। चिकित्सक अस्पताल परिसर में बने आवास में क्वरेंटाइन हो गई हैं। इसी तरह जयारोग्य चिकित्सालय में पदस्थ एक डॉक्टर का 16 वर्षीय बेटा हिमांशु (बदला हुआ नाम) भी संक्रमित है, जबकि जनकगंज डिस्पेंसरी में पदस्थ चिकित्सक के सम्पर्क में आने से बहोड़ापुर निवासी 45 वर्षीय महिला स्वास्थ्यकर्मी को भी संक्रमण की पुष्टि हुई है।

महाराजपुरा स्थित वायु सेना परिसर में बनी मैस में पदस्थ 44 वर्षीय बृजेश (बदला हुआ नाम) कैटरिंग स्टाफ है वह भी संक्रमण की चपेट आाया है। संक्रमित ने गत दिवस मैस क्रमांक-1 में ड्यूटी की थी और करीब 250 वायु सेना के अधिकारियों के सम्पर्क में भी आया है। अब इन 250 की भी सैंपलिंग कराई जा सकती है। इसके अलावा बीएसएफ टेकनपुर में पदस्थ एक डॉक्टर सहित 5 को कोरोना हुआ है। पुलिस अधीक्षक कार्यालय में फिर संक्रमण फैला है। बीते दिवस 10 पुलिसकर्मी संक्रमित हुए थे। बुधवार को क्राइम ब्रांच के एक सब इंस्पेक्टर के साथ तीन जवान संक्रमित पाए गए हैं।

हरीशंकर पुरम निवासी 28 वर्षीय युवती मुम्बई, जवाहर कॉलोनी निवासी 63 वर्षीय बुजुर्ग वृन्दावन यूपी, गोविन्दपुरी निवासी 26 वर्षीय युवती दिल्ली, 24 वर्षीय युवक खरगौन, मधु कॉलोनी निवासी BSNL के 35 वर्षीय इंजीनियर उनकी 27 वर्षीय पत्नी दिल्ली, सुरेश नगर 50 वर्षीय व्यक्ति दिल्ली, हरीशंकर पुरम निवासी 50 वर्षीय व्यक्ति उसका 18 वर्षीय बेटा वृन्दावन, माधव नगर निवासी 24 वर्षीय युवती दिल्ली माधवगंज निवासी 32 वर्षीय संक्रमित निजामुद्दीन से लौटे हैं।