क्राइसेस मैनेजमेंट की बैठक में लिए गए महत्वपूर्ण निर्णय…
बाजार में एक साईड की दुकानें एक दिन और दूसरी साईड की दूसरे दिन खोली जाएं : कलेक्टर

ग्वालियर। कोविड-19 के तहत लॉकडाउन-4 में शासन द्वारा कई महत्वपूर्ण निर्णय बाजारों को खोलने के संबंध में लिए गए हैं। कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के साथ-साथ व्यवसायिक गतिविधियों को भी प्रारंभ करने का निर्णय लिया गया है। व्यवसायिक गतिविधियों के साथ वायरस की रोकथाम एक बड़ी चुनौती है। इस चुनौती का हम सबको मिलकर मुकाबला करना होगा। हमारे जिले में व्यवसायिक गतिविधियां भी संचालित हों और बीमारी पर भी रोक लग सके, इस दिशा में सभी जनप्रतिनिधियों का सकारात्मक सहयोग अपेक्षित है। नोवेल कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम हेतु गठित क्राइसेस मैनेजमेंट की बैठक में कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने शासन द्वारा जारी आदेश एवं व्यवसायिक गतिविधियों को प्रारंभ करने के संबंध में विस्तार से जानकारी देते हुए क्राइसेस मैनेजमेंट की बैठक में जनप्रतिनिधियों के सुझाव जाने। 

बैठक में क्षेत्रीय सांसद विवेक नारायण शेजवलकर, विधायक भारत सिंह कुशवाह, पूर्व मंत्री नारायण सिंह कुशवाह, पूर्व विधायक रमेश अग्रवाल, मदन कुशवाह, रामबरन सिंह गुर्जर, भारतीय जनता पार्टी के जिला अध्यक्ष कमल माखीजानी, ग्रामीण अध्यक्ष कौशल शर्मा, कांग्रेस के जिला अध्यक्ष देवेन्द्र शर्मा, बहुजन समाज पार्टी के जिला अध्यक्ष दिनेश मौर्य, जिला पंचायत के उपाध्यक्ष शांतिशरण गौतम, कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह, पुलिस अधीक्षक नवनीत भसीन, नगर निगम आयुक्त संदीप माकिन, सीईओ जिला पंचायत शिवम वर्मा, एडीएम किशोर कन्याल सहित विभागीय अधिकारी उपस्थित थे। क्राइसेस मैनेजमेंट की बैठक में सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया कि व्यवसायिक गतिविधियों को सावधानीपूर्वक प्रारंभ किया जाए। सभी बाजारों में एक तरफ की पट्टी की दुकानें एक दिन एवं दूसरी पट्टी की दुकानें दूसरे दिन खोली जाएं। इससे व्यवसाय भी प्रारंभ होगा और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन भी किया जा सकेगा। सभी दुकानदार अपने व्यवसायिक प्रतिष्ठान पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन सुनिश्चित करें। 

इसके साथ ही सभी दुकानों के सामने दुकानदार स्वयं ऑइल पेन्ट से गोले बनाएं, ताकि दुकान पर आने वाले ग्राहक निर्धारित दूरी का पालन करते हुए अपना सामान क्रय कर सकें। सभी दुकानदार अपनी दुकान पर काम करने वाले सभी लोगों को मास्क लगाकर कार्य करने की भी व्यवस्था सुनिश्चित करें। बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि सोशल डिस्टेंसिंग का पालन न करने वाले दुकानदारों के विरूद्ध भी कार्रवाई की जाए। नोवेल कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम में सभी का सहयोग अपेक्षित है। व्यवसाय करने वाले सभी व्यापारी भी इसमें अपनी भागीदारी सुनिश्चित करें। बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि बड़े व्यवसायिक प्रतिष्ठान अपने यहां पर सेनेटाइजर रखने के साथ-साथ थर्मल स्क्रीनिंग की व्यवस्थायें भी करें। बड़े व्यवसायिक प्रतिष्ठानों पर आने वाले प्रत्येक ग्राहक की थर्मल स्क्रीनिंग हो, यह भी सुनिश्चित किया जाना चाहिए। 

बैठक में सर्वसम्मति से यह भी निर्णय लिया गया कि नोवेल कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए सामाजिक, धार्मिक एवं राजनैतिक कार्यक्रम नहीं होना चाहिए। इसके लिये सभी जनप्रतिनिधि भी पहल करें। शादी, समारोह में भी निर्धारित संख्या से अधिक लोग एकत्र न हों, यह भी सुनिश्चित किया जायेगा। बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि जनप्रतिनिधि भी विभिन्न व्यवसायिक प्रतिष्ठानों की एसोसिएशनों और उनके पदाधिकारियों से चर्चा कर दुकानदारों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने एवं संक्रमण की रोकथाम के लिये आवश्यक सावधानियां बरतने के संबंध में चर्चा करें और व्यापारियों को इसके लिये प्रोत्साहित करें। सभी दुकानदार अपने-अपने दुकान के बाहर अपने वॉलेन्टियर भी रखें, जो दुकान पर आने वाले ग्राहकों को सोशल डिस्टेंसिंग एवं मास्क पहनकर रखने की समझाइश देते रहें। इसके लिये दुकानदार अपने वोलेन्टियरों को एक कलर की कैप एवं विसिल भी दें। 

बैठक में निर्णय लिया गया है कि सभी व्यावसायिक प्रतिष्ठान प्रात: 7 बजे से शाम 7 बजे तक ही संचालित होंगे। शाम 7 बजे से प्रात: 7 बजे तक लॉकडाउन का सख्ती से पालन सुनिश्चित किया जायेगा। बैठक में क्षेत्रीय सांसद विवेक नारायण शेजवलकर ने यह भी कहा कि भारत सरकार द्वारा यात्रियों को उनके घरों तक पहुँचाने हेतु रेल सेवाएं प्रारंभ की गई हैं। वर्तमान में ग्वालियर के निवासियों को आगरा एवं झांसी से रेल की सुविधा उपलब्ध है। ई-टिकिट को ही यात्रा पास माने जाने के निर्देश जारी किए गए हैं। झांसी एवं आगरा पर यात्रियों को स्टेशन तक छोड़ने के लिये जाने वाले वाहन एवं वाहन मालिक को भी जिला प्रशासन की ओर से कोई पास दिया जाना चाहिए, ताकि आने-जाने में कोई परेशानी न हो। विधायक ग्वालियर ग्रामीण भारत सिंह कुशवाह ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में सभी दुकानों को खोले जाने का निर्णय शासन द्वारा लिया गया है। ग्रामीण क्षेत्रों में भी कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिये पुख्ता प्रबंध किए जाना चाहिए। 

सोशल डिस्टेंसिंग के साथ ग्रामीण क्षेत्र में भी सभी लोग मास्क पहनें, इसके लिये भी विशेष प्रयास होना चाहिए। जिला पंचायत की ओर से सभी ग्राम पंचायतों में इस प्रकार के दिशा-निर्देश एवं जन जागृति के लिये अभियान भी चलाया जाना चाहिए। बैठक में अन्य जनप्रतिनिधियों ने भी व्यवसायिक गतिविधियों को प्रारंभ करने के साथ-साथ आश्यक सावधानियां बरते जाने की बात रखी। कानूनी प्रावधानों के साथ-साथ आम जनों में नोवेल कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिये किए जाने वाले उपायों को अपनाने के लिये भी जनजागृति पर विशेष ध्यान दिया जाना चाहिए। कलेक्टर  कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने क्राइसेस मैनेजमेंट की बैठक में बताया कि बैठक में लिए गए महत्वपूर्ण निर्णयों को शासन स्तर पर भेजा जायेगा। शासन से प्राप्त स्वीकृति के पश्चात दिए गए निर्देशों का पालन सुनिश्चित किया जायेगा।