केंद्राध्यक्ष सहित सभी 12 शिक्षक निलंबित…

MP बोर्ड परीक्षा में सामूहिक नकल



दतिया। MP Board Exam 2020 अभी तक बोर्ड परीक्षाओं में नकल के मामले में भिंड और मुरैना के नाम सामने आते थे लेकिन अब इस नाम में दतिया भी शामिल हो गया है। 12 मार्च को भांडेर के बडेरा सोपान केंद्र पर केंद्राध्यक्ष सहित स्टाफ के सदस्य ही सामूहिक नकल करा रहे थे। जांच में मामला सही मिलने पर कलेक्टर ने शनिवार को केंद्राध्यक्ष सहित सभी 12 शिक्षकों को निलंबित कर दिया है। जिला शिक्षा अधिकारी को भी कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है।

भांडेर के बडेरा सोपान को हाईस्कूल का परीक्षा केंद्र बनाया गया है। यहां पर 12 मार्च को गणित का पेपर था। केंद्र में केंद्राध्यक्ष सहित मौजूद सभी स्टाफ की ओर से बधाों को सामूहिक रूप से नकल कराई जा रही थी।
इस संबंध में तहसीलदार नीतेश भार्गव को शिकायत मिली तो वह तुरंत मौके पर पहुंचे जहां पर सामूहिक रूप से नकल कराए जाना पाया गया। इसके चलते तुरंत तहसीलदार की ओर से प्रतिवेदन बनाकर कार्रवाई के लिए कलेक्टर को दिया गया जिस पर शनिवार को कलेक्टर रोहित सिंह ने एक्शन लेते हुए केंद्राध्यक्ष सहित 12 शिक्षकों को निलंबित कर दिया है।

भांडेर के बडेरा सोपान पर सामूहिक रूप से नकल का मामला सामने आने पर इसकी सीधे जिम्मेदारी डीईओ संजय श्रीवास्तव की लापरवाही मानी जा रही है। कलेक्टर ने इन शिक्षकों को निलंबित करने के साथ-साथ डीईओ संजय श्रीवास्तव को भी कारण बताओ नोटिस जारी कर तीन दिन में जबाव देने को कहा गया है।

कलेक्टर रोहित सिंह की ओर से आगामी परीक्षा आयोजित कराए जाने के लिए बडेरा सोपान परीक्षा केंद्र पर केंदाध्यक्ष सहित नवीन स्टाफ की ड्यूटी लगाए जाने के लिए पत्र भेजा गया है।

केंद्राध्यक्ष अभीष शंखधार के अलावा शिक्षक भगवानदास जाटव, राम किंकर राजपूत, सुरेश चन्द्र नामदेव, छोटे सिंह रायकवार, सीताराम पाल, हरीश चन्द्र राजपूत, बबलू यादव, परशुराम सिंह धाकड, ज्ञानवती माहौर, प्रदीप कुमार, रामकिशोर पाल आदि को निलंबित कर दिया गया है।

परीक्षा केंद्र पर सामूहिक नकल की सूचना मिलने पर मौके पर पहुंचकर देखा तो सामूहिक नकल होती मिली। इस संबंध में प्रतिवेदन बनाकर कलेक्टर को भेजा गया जहां से सभी को निलंबित की कार्रवाई की गई है।
नीतेश भार्गव, तहसीलदार भांडेर