16 सूत्रीय मांगों के सम्बंध में...

पंचायत मंत्री के आश्वासन के बाद दिव्यांंगजनों पदयात्रा की समाप्त

गुना l दिव्यांगजनों की शासन स्तर की 16 सूत्रीय मांगों के सम्बंध में प्रदेश के  पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग मंत्री महेन्द्रा सिंह सिसोदिया द्वारा राघोगढ़ के ग्राम दौराना में उपस्थित हो कर ज्ञापन प्राप्त किया गया। दिव्यांगजनो को 3 माह का समय दिया गया। इस आश्वासन पर दिव्यांगजनो के द्वारा पथयात्रा समाप्त की गई। मंत्री श्री सिसोदिया ने कहा कि प्रदेश के मुख्यनमंत्री जी के नेतृत्व में सरकार सदैव हमारे दिव्यांग भाई बहनों के हितों की रक्षा के लिए प्रतिबद्ध है।पाँच लोगों का प्रतिनिमंडल के साथ वे मुख्यमंत्री से भोपाल जाकर मिलेंगे और हमारे दिव्यांग साथियों की माँगे उनके समक्ष रखेंगे और मुझे पूर्ण विश्वास में वे इन माँगों  का यथाउचित निराकरण करेंगे।

दिव्यांगजनों द्वारा दिव्यांग स्वाभिमान यात्रा निकाली जा रही थी जिनसे मिलने गत दिवस कलेक्टर व एसपी उनसे मिलने पहुँचे और यात्रा स्थगित करने का आग्रह किया था मगर वे नहीं माने और सरकार के किसी प्रतिनिधि को भी ज्ञापन देने पर अड़ गए थे।इसी क्रम में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पंचायत मंत्री सिसोदिया को गुना जाकर दिव्यांगजनों से मिलकर उनकी समस्याएँ सुन यात्रा स्थगित कराने को कहा था।

इस पूरे घटनाक्रम में एक रोचक बात तब देखने मिली जब पंचायत मंत्री ज़मीन पर बैठीं दिव्यांग महिलाओं को देखकर ख़ुद भी ज़मीन पर बैठगए और उनसे मुलाक़ात की।हालाँकि जब वे बैठने की कोशिश कर रहे थे महिलाओं ने मंत्री श्री सिसोदिया से नीचे न बैठने का खूब आग्रह किया मगर वे नहीं माने।बतादें उनके पैर का बड़ा ऑपरेशन कुछ माह पहले ही हुआ था और उन्हें ज़मीन पर बैठना सख़्त मना है।