पार्षदों की खरीद-फरोख्त  को लेकर ...

इमरती देवी और विधायक सुरेश राजे ने एक-दूसरे पर लगाये आरोप

ग्वालियर l डबरा के  कांग्रेस विधायक सुरेश राजे और डबरा से  ही  विधायक रही पूर्वमंत्री इमरती देवी  के बीच तू तू-मैं मैं हो गयी। सिंधिया समर्थक इमरती देवी ने विधायक सुरेश राजे पर पार्षदों को बेचने का आरोप लगाया और इसके जवाब में विधायक बोले, तुमने की खरीद फरोख्त, मैंने किसी को बेचा है तो नाम बताओ।

मौका था सहराई गांव में डॉ. भीमराव अम्बेडकर की प्रतिमा खंडित होने पर सभी इकट्ठा हुए थे। यहां इमरती देवी और डबरा विधायक सुरेश राजे भी पहुंचे थे।  विधायक फर्श पर दरी बिछाकर समाज के लोगों के साथ बैठ गये। उन्होंने कहा कि मैं ऐसा विधायक नहीं हूं कि किसी के बुलाने पर आऊं । मैं तो जहां मन होता है वहां पहुंच जाता हूं। इस पर इमरती देवी ने विरोध जताते हुए पार्षदों को बेचने की बात कह दी।

जिस पर विधायक भड़क गये। 


पूर्वमंत्री इमरती देवी और विधायक सुरेश राजे के बीच तू तू -मैं मैं 

सुरेश राजे – मेरे पार्षद खरीदे….किसने खरीदे

इमरती देवी- तुमने पार्षद बेचे हैं।

सुरेश राजे7 कौनसा पार्षद मैं तुम्हारे पास लेकर गया।

इमरती देवी- मैं गयी थी न नरोत्तम के पास बेचने 10 पार्षद।

सुरेशराजे- मैंने कब बेचे पार्षद, किसको बेचे, नाम बताओ।

दोनों की बीच तू तू-मैं मैं जारी रही, वहां मौजूद लोगों ने विधायक और इमरती देवी को शांत कराया।

खरीद फरोख्त को लेकर एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप मडते रहे और काफी गहमागहमी के बाद मामला शांत हुआ। वहीं पर उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के आगमन पर ग्वालियर पहुंची लघु एवं उद्योग निगम अध्यक्ष इमरती देवी सुमन ने मीडिया के सवालों का जवाब देते हुए कहा है कि हमारे पास साथ पार्षद थे और कांग्रेश के पास 10 पार्षद थे इसके बावजूद भी हमने डबरा में नगर पालिका अध्यक्ष अपनी बनवाई उनके पास 10 पार्षद थे तो उन्होंने नगर पालिका अध्यक्ष क्यों नहीं बनवा पाए।  जबकि वास्तविकता यह है कि नगरीय निकाय चुनाव डबरा में कुल 30 वार्ड है जबकि भाजपा को 14 और कांग्रेस को 10 अन्य को 6 पर जीत हासिल हुई थी।


वहीं पर लघु उद्योग निगम अध्यक्ष इमरती देवी यह कह रही हैं कि हमारे पास सिर्फ 7 पार्षद थे तो फिर 7 पार्षद भाजपा के कहां गए यह एक बड़ा सवाल है इससे साफ जाहिर होता है कि डबरा की नगर पालिका में गुटबाजी हुई है जिसका खुलासा आज खुद लघु एवं उद्योग निगम अध्यक्ष इमरती देवी ने मीडिया के समक्ष भाजपा के समर्थन में 14 में से 7 पार्षदों का समर्थन ही भाजपा को मिला है।

दरसल डबरा के सहराई गांव में भीमराव अंबेडकर की प्रतिमा को शुक्रवार की  रात किसी ने खंडित कर दिया था। जैसे ही यह खबर स्थानीय लोगों को पता चली तो वहां भीड़ जमा हो गई। भीम आर्मी के सदस्य भी वहां पहुंच गए। जानकारी मिलते ही कांग्रेस विधायक सुरेश राजे और दूसरे नेता भी पहुंच गए। पूर्वमंत्री इमरती देवी आ गईं। इसके बाद जिला प्रशासन और पुलिस बल पहुंच गया।इस दौरान लोगों ने मांग की कि मूर्ति की सुरक्षा के लिए CCTV लगाए जाएं। गार्ड की नियुक्ति भी हो। क्योंकि पहले भी मूर्ति को खंडित किया जा चुका है। जिसने मूर्ति को नुकसान पहुंचाया है, जल्द से जल्द उसे पकड़ा जाए। इस पर प्रशासन ने नई मूर्ति लगाने का आश्वासन दिया। इमरती देवी ने गार्ड के लिए एक कमरा निर्माण कराने की बात कही है।