गोहद कस्बे में दिनदहाड़े बर्तन व्यापारी के घर पर लूट और हत्या 

पुलिस की वर्दी में आये थे 5 करोड़ रुपए की डकैती शामिल  बदमाश 


भिण्ड। मध्यप्रदेश में भिंड जिले के गोहद कस्बे में दिनदहाड़े बर्तन व्यापारी के घर पर लूट और हत्या की घटना को अंजाम दिया गया है। इस घटना पुलिस 24 घंटे के बाद भी खुलासा नहीं नहीं सकी हालांकि, पुलिस का दावा है कि जल्द ही आरोपियों को पुलिस पकड़ लेगी। इस मामले में 3 को पूछताछ के लिये उठाया है। जिनसे महत्वपूर्ण सुराग हाथ लगने की बात कहीं जा रही है।

गोहद कस्बे के बर्तन व्यापारी रामकिशोर लोहिया के घर रविवार की शाम पुलिस की वर्दी में 2 और एक बदमाश सादा कपड़ों में आये। उन्होंने शटर को खटखटाया। बदमाशों ने झांसा दिया कि आपके बेटे लकी के दोस्त के पास हथियार पकड़े हैं। कारतूस व अन्य हथियरों की तलाश आपके घर में करनी है। झांसे में आकर व्यापारी ने घर का गेट खोल दिया। अन्दर जाकर बदमाशों ने हाथ की सफाई दिखाई। इस वक्त व्यापारी की लड़की रिंकी ने बदमाशों की हरकत को देखा तो विरोध किया और चिल्लाते हुए बोली-पापा यह पुलिस नहीं है, चोर हैं। यह सुनते ही बदमाश हावी हो गये। बदमाशों ने बेटी रिंकी और व्यापारी रामकिशोर को काबू में करने के लिए बेटी के मुंह पर तकिया रखकर दबा दिया। थोड़ी ही देर में दम घुटने से उसकी मौत हो गयी। वहीं व्यापारी के मुंह में भी कपड़ा ठूंसकर बांध दिया था। इस दौरान व्यापारी का बेटा घर से बाहर था।

वारदात के समय घर के अंदर बेटी व पिता थे। बेटा दोपहर 2 बजे गायब था। व्यापारी की पत्नी की मौत कुछ वर्ष पहले हुई थी। घर में व्यापारी, उसकी बेटी और बेटा लकी रहता है। जब शाम करीब 7.30 बजे रामकिशोर लोहिया के घर का दरवाजा खुला दिखाई दिया तो पड़ोसी मुन्ना को संदेह हुआ। उसने घर में जाकर देखा तो सामान बिखराब पड़ा हुआ था। बेटी रिंकी बेसुध थी। वह तत्काल बाहर आया और उसने लोगों को घटना बताई। फिर वापस घर में गया आवाज लगाई तो लोहिया ने भी आवाज लगाकर उन्हें पुकारा। आसपास के लोगों के सहयोग से उन्होंने व्यापारी की रस्सियां खोली। सभी ने रिंकी को देखा तो वह अचेत थी। हालांकि दम घुटने से उसकी मौत हो चुकी थी। घटना की खबर मिलने पर रात 10 बजे पुलिस भी घटनास्थल पर पहुंची रिंकी के शव को अस्पताल पहुंचाया। जहां पुलिस ने जांच के बाद मृत घोषित कर दिया। इस घटना पूरे इलाके में आग की तरह फैल गयी। एसपी शैलेन्द्रसिंह चौहान भी देर रात घटनास्थल पर पहुंचे थे।

पुलिस की एफआईआर में 20 से 25 लाख रुपए की लूट व हत्या मामला दर्ज किया है। जबकी मामला लगभग 4 -5 करोड़ का लग रहा है l  पूरे मामले में पुलिस ने व्यापारी के बेटे को भी पूछताछ के लिये बैठाया है। हालांकि पुलिस को अहम सुराग हाथ लगे हैं। घटना को अंजाम देने वाले बदमाश अंतर्राज्यीय गिरोह के सदस्य है। यह बदमाश मालनपुर क्षेत्र के आसपास के बताये जा रहे हैं। इस मामले में पुलिस ने एक ज्वेलर्स को भी उठाया है जिसके पास से सोने के कुछ गहने मिलने की बात कही गयी है। वहीं, पुलिस ने व्यापारी के बेटे से पूछताछ कर रही है। इसके अलावा एक अन्य बदमाश को भी पुलिस ने हिरासत में लिया है। इस घटना को अंजाम देने वाले मुख्य 3 बदमाश है। जिनकी लोकेशन के आधार पर पुलिस की 3 पार्टी रवाना की गयी है।

व्यापारी लोहिया के नजदीकी लोगों ने बताया कि बेटी रिंकी की शादी पक्की हो चुकी थी। घर में शादी की तैयारियां शुरू हो चुकी थी। शादी को देवउठनी एकादशी के बाद होने जा रही थी। व्यापारी की 9 बेटियां हैं। जिसमें सबसे छोटी बेटी रिंकी थी जिसकी शादी की जानी थी। व्यापारी के स्वयं का जैविक बेटा नहीं है । करीब 23 साल पहले व्यापारी व उसकी पत्नी ने कैलारस से एक बेटे को गोद लिया था। आस पड़ोसियों का कहना है कि बेटा नशे का आदी है। उसकी संगत भी ठीक नहीं थी। इसलिए परिवार में पैसों को लेकर कलह करता था। पुलिस इसी शक के आधार पर व्यापारी के बेटे लकी से पूछताछ कर रही है।

विरोध में बाजार रहा बंद

व्यापारी के घर लूट व बेटी की हत्या के बाद व्यापारियों में आक्रोश छाया हुआ है।  गोहद कस्बे के व्यापारी विरोध में उतर आए है । उन्होंने सोमवार को पूरे क्षेत्र का बाजार बंद रखा। व्यापारियों के विरोध के बाद पुलिस भी सक्रिय दिखी। पुलिस ने व्यापारियों को समझाया। भिंड एसपी शैलेंद्र सिंह चौहान पूरे समय गोदह में रहे। हर एक सुराग को बारीकी से टटोला जा रहा है।