हाथरस प्रशासन की ओर से भी एक-एक लाख रूपए की सहायता देने की कार्रवाई…

हाथरस सड़क दुर्घटना में 6 की मौत, पीड़ित परिवारों को मिलेगी 4-4 लाख रूपए की सहायता

ग्वालियर। हरिद्वार से काँवर लेकर लौट रहे ग्वालियर के युवकों की डम्पर से हुई टक्कर से 6 लोगों की मृत्यु हो गई एवं एक युवक गंभीर रूप से घायल हुआ है। घायल का उपचार ग्वालियर के बिरला हॉस्पिटल में किया जा रहा है। इस दु:खद घटना की सूचना मिलते ही कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने प्रशासनिक अमले को बिरला अस्पताल एवं उनके गाँव भेजा। घटना में मृत हुए लोगों के परिजनों को 4-4 लाख रूपए की सहायता राशि दी जायेगी। साथ ही रेडक्रॉस समिति की ओर से 25-25 हजार रूपए की तत्काल सहायता राशि और 5-5 हजार रूपए की अंत्येष्टि सहायता राशि प्रदान कर दी गई है। जिला हाथरस प्रशासन द्वारा भी मृतकों के परिजनों को एक-एक लाख रूपए की आर्थिक सहायता दिए जाने की कार्रवाई की जा रही है। 

ग्वालियर जिले की ग्राम पंचायत बहांगीखुर्द, जनपद पंचायत मुरार के निवासी विकास पुत्र प्रभुदयाल शर्मा उम्र-25 वर्ष, नरेश पुत्र रामनाथ उम्र 45 वर्ष, रमेश पुत्र नाथूराम बघेल उम्र 43 वर्ष, मनोज पुत्र मोहन सिंह बघेल उम्र 38 वर्ष, रनबीर पुत्र अमरसिंह उम्र 35 वर्ष, जबरसिंह पुत्र सुल्तान सिंह उम्र 35 वर्ष की दुर्घटना में मृत्यु हुई है एवं अभिषेक पुत्र बकील सिंह निवासी निबुआपुरा आगरा हॉस्पिटल से लाकर ग्वालियर बिरला हॉस्पिटल में उपराररत हैं। कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने बताया कि मृतकों के परिजनों को 4-4 लाख रूपए की सहायता संबल योजना में दी जायेगी। इसके साथ ही तीन लोगों के नाम संबल में न होने पर 4-4 लाख रूपए की सहायता राशि का प्रस्ताव मुख्यमंत्री को भेजा गया है। मुख्यमंत्री की स्वीकृति के उपरांत सहायता राशि पीड़ित परिवार को प्रदान की जायेगी। 

उन्होंने बताया कि इसके साथ ही रेडक्रॉस सोसायटी ग्वालियर के माध्यम से 25-25 हजार रूपए की सहायता राशि प्रदान की गई है। अंत्येष्टि सहायता के रूप में भी 5-5 हजार रूपए की राशि पीड़ित परिवार को प्रदान कर दी गई है। कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने इस दु:खद घटना पर शोक व्यक्त किया है। उन्होंने पीड़ित परिवारों को आश्वस्त किया है कि शासन और प्रशासन संकट की इस घड़ी में उनके साथ है। पीड़ित परिजनों को हर संभव सहयोग एवं सहायता उपलब्ध कराई जायेगी। कलेक्टर श्री सिंह पीड़ित परिजनों से मिलने उनके निवास पर पहुँचे और अपनी शोक संवेदनाएं व्यक्त कीं। प्रदेश के जल संसाधन मंत्री एवं ग्वालियर जिले के प्रभारी मंत्री तुलसीराम सिलावट ने सड़क दुर्घटना की जानकारी मिलते ही जिला कलेक्टर से दूरभाष पर चर्चा की और इस दु:खद घटना पर गहरा शोक व्यक्त किया है। 

उन्होंने पीड़ित परिवार को आश्वस्त किया है कि शासन और प्रशासन पूरी तरह उनके साथ है। संकट की इस घड़ी में हर संभव सहायता और सहयोग प्रदान किया जायेगा। प्रदेश के उद्यानिकी राज्य मंत्री भारत सिंह कुशवाह ने सड़क दुर्घटना में ग्वालियर जिले के युवकों की हुई मृत्यु पर गहरा शोक व्यक्त करते हुए पीड़ित परिजनों को हर संभव सहायता एवं सहयोग देने की बात कही। उन्होंने जिला प्रशासन एवं शासन स्तर से भी चर्चा कर पीड़ित परिजनों को तत्काल सहायता उपलब्ध कराने की बात की है। क्षेत्रीय सांसद विवेक नारायण शेजवलकर ने सड़क दुर्घटना में ग्वालियर जिले के युवाओं की मृत्यु होने पर गहरा शोक व्यक्त किया है। उन्होंने जिला प्रशासन के अधिकारियों से चर्चा कर संकट की घड़ी में हर संभव सहायता और सहयोग प्रदान करने की बात कही। इसके साथ ही अस्पताल में उपराररत युवक को बेहतर स्वास्थ्य सुविधायें उपलब्ध कराने की बात कही। ताकि वह शीघ्र स्वस्थ होकर अपने घर जा सके।