अब कार्तिक मास की देवउठनी एकादशी तक विश्राम में रहेंगे भगवान विष्णु…

श्री सनातनधर्म मन्दिर में श्रद्धाभाव के साथ मनी देवशयनी एकादशी

ग्वालियर। श्री सनातनधर्म मन्दिर में देवशयनी एकादशी रविवार को श्रद्धाभाव के साथ मनाई गई। सुबह भगवान चक्रधर के पट खुलने के साथ ही दर्शन करने वाले भक्त श्रद्धालुओं के मन्दिर आने का क्रम आरम्भ हो गया। मुख्य पुजारी  रमाकांत शास्त्री ने भक्तवृन्द को देवशयनी एकादशी की व्रत कथा सुनाई। इस अवसर पर मुख्य पुजारी रमाकांत शास्त्री ने भगवान श्री चक्रधर का मनमोहक विशेष श्रृंगार किया। गुलाबी वस्त्रों के साथ सुनहरी पगड़ी, मोरपंख, तुलसी दल माला, मोंगरे की माला धारण कराई, इत्र सुगन्ध अर्पित किया। 

भक्तों ने भजन कीर्तन किये। रात्रि 9 बजे भगवान चक्रधर विष्णु के शयन कक्ष में शैया लगाई गई एवं बिहारी जी के नैनों में नींद भर आई गाकर शयन आरती हुई। शयन के साथ ही अब भगवान विष्णु कार्तिक मास की देवउठनी एकादशी तक विश्राम में रहेंगे ऐसी शास्त्रोक्त मान्यता है। इस अवसर पर वृन्दावन से पधारे भगवताचार्य डॉ संजय कृष्ण सलिल, प्रधानमंत्री महेश नीखरा, राजेश गर्ग, अजय गुप्ता, बृजेश भुजंग, राधेश्याम मंगल, पाठक जी, संतोष गुप्ता, आदि उपस्थित रहे।आरती के उपरांत भक्तों में प्रसाद वितरण हुआ।