आकाश वायजू ने दिया मौका...

ग्वालियर के मध्यम वर्गीय परिवार की बेटी नैना करेगी नासा की सैर

ग्वालियर। यूथ के भविष्य का सपना पूरा करने का कार्य टेस्ट प्रिपरेट्री सेवाओं में नेशनल लीडर के तौर पर पहचान बना चुके आकाश वायजू के द्वारा आयोजित एंथे एंट्रेंस टेस्ट के माध्यम से नैना परिहार को नासा (एंथे स्पेस एजेंसी) की ऑल एक्सपेंसेस पेड ट्रिप के लिए चुना गया है। इतना ही नहीं नैना परिहार के साथ-साथ उसके पेरेंट्स में से माता या पिता किसी एक को उसके साथ नासा जाने का मौका भी मिलेगा। आकाश वायजू की बदौलत फ्लैगशिप वार्षिक स्कॉलरशिप परीक्षा के 12वें संस्करण में और ग्वालियर में आयोजित पहले संस्करण में इस मध्यमवर्गीय परिवार की छात्रा का चयन आकाश नेशनल टैलेंट हंट एग्जाम एंथे 2021 मैं प्राप्त कोर स्कोर के आधार पर हुआ है। 

आपको बता दें कि एंथे में कक्षा 7 से लेकर 12वीं तक के विद्यार्थी नीट एवं आईआईटी जेई कोचिंग प्रोग्राम्स के लिए अपने प्रदर्शन में सुधार लाने के लिए हिस्सा ले सकते हैं साल 2021 में 12 लाख  विद्यार्थियों ने एंथे के लिए रजिस्ट्रेशन कराया था जो आज कि तक हुए रजिस्ट्रेशंस में  सबसे अधिक थे। एंथे 2021 में कुल 90 अंकू का पेपर था और इसमें 35 बहुविकल्पी सवाल दिए गए थे जो विद्यार्थियों के ग्रेड एवं विषयों पर आधारित थे। इन सवालों का सही और सटीक जवाब देकर नैना ने नासा जाने की अपनी टिकिट पक्की की। नैना को बधाई देते हुए आकाश बाईजू के मैनेजिंग डायरेक्टर आकाश चौधरी ने कहा कि हमें नैना पर गर्व है जिसे नासा ट्रिप के लिए चुना गया है। 

यह ट्रिप बेहतरीन होगी और उसे काफी एक्सपोजर प्रदान करेगी। इस तरह के अनुभवों से विद्यार्थियों को अपने कैरियर और व्यक्तित्व का समग्र विकास करने का प्रोत्साहन मिलता है । नासा की ट्रिप से विद्यार्थी विज्ञान एवं टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में कैरियर बनाने के लिए प्रेरित होते हैं। उन्हें नासा की टेक्नोलॉजी को करीब से समझने का फर्स्ट हैंड अनुभव भी मिलेगा। श्री चौधरी ने बताया कि 4 दिवसीय यह टूर विद्यार्थियों को इस बात का समृद्ध अनुभव प्रदान करेगा कि अंतरिक्ष संगठन कैसे काम करता है ? यहां प्रोजेक्ट लाइव का प्रदर्शन सामूहिक चर्चा एवं अन्य गतिविधियों द्वारा विद्यार्थियों को कंसेप्ट बेहतर तरीके से समझने में मदद मिलेगी।