भोपाल से आ रहे लोगों की कार घाटीगांव के पास ट्रक में घुसी...

ग्वालियर-शिवपुरी हाइवे पर एक ट्रक चालक की लापरवाही ने ली तीन लोगों की जान 

ग्वालियर। ग्वालियर-शिवपुरी हाइवे पर एक ट्रक चालक की लापरवाही ने मां-बेटे सहित एक ही परिवार के तीन लोगों की जान ले ली। हाइवे पर घाटीगांव इलाके में तेज रफ्तार ट्रक के चालक ने अचानक बीच सड़क पर ब्रेक लगा दिए, पीछे आ रही वैगनआर कार अनियंत्रित हो गई जब तक कार चालक ब्रेक मारता तब तक तो कार ट्रक में जा घुसी। इस भीषण हादसे में दो लोगों की तो मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई। जबकि एक वृद्धा ने अस्पताल में दम तोड़ दिया। कार में सवार आइईएस अफसर गंभीर रूप से घायल हैं, जिसका ग्वालियर के निजी अस्पताल में इलाज चल रहा है।

घाटीगांव थाना प्रभारी शैलेंद्र सिंह गुर्जर ने बताया कि ग्वालियर थाटीपुर स्थित मयूर नगर के रहने वाले भगवती बंसल इलेक्ट्रिकल सप्लायर और ठेकेदार थे। उनके पास केबल बिछाने का भी ठेका था। दौलतगंज में उनकी तिरुपति कंस्ट्रक्शन के नाम से दुकान है। उन्हीं के साथ उनका ममेरा भाई अशोक राय बंसल निवासी एकता कालोनी, नया पुरा काम करता था। भगवती का छोटा भाई मनोज कुमार सिंघल आइईएफ अफसर हैं और दूरसंचार विभाग में है। उसकी पोस्टिंग अभी भोपाल में है। बुधवार को भगवती और अशोक व्यापार के सिलसिले में भोपाल के लिए गए थे। रात को ही यह लोग ग्वालियर के लिए निकले। इनके साथ मनोज और मां विद्वयादेवी भी ग्वालियर के लिए निकले। बुधवार-गुरुवार की दरम्यानी रात कार ग्वालियर-शिवपुरी हाइवे पर घाटीगांव स्थित सिरसा गांव के पास से गुजर रही थी। इनके आगे ट्रक चल रहा था। ट्रक चालक ने अचानक ट्रक के ब्रेक लगा दिए। ब्रेक लगते ही कार अनियंत्रित हो गई और ट्रक में जा घुसी। 

कार चला रहे अशोक और भगवती की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि विद्या देवी और मनोज गंभीर घायल हो गए। विद्या देवी ने अस्पताल में दम तोड़ दिया। मनोज को निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है, यहां उनका इलाज चल रहा है। मृतकों के शव को पोस्टमार्टम हाउस भिजवाया गया। पुलिस ने दोपहर में शवों का पोस्टमार्टम कराया, इसके बाद परिजनों के सुपुर्द कर दिया। ट्रक चालक पर एफआइआर दर्ज की गई है, क्योंकि उसकी लापरवाही के चलते ही यह हादसा हुआ। गुरुवार को ही अंतिम संस्कार किया गया। हादसे में एक साथ दो व्यापारियों की मौत से शहर के व्यापारियों में शोक की लहर छा गई।