नर्मदा स्नान के लिए जा रहे थे 25 लोग...

इंदौर-बैतूल नेशनल हाई-वे पर दो ट्रकों में भिड़ंत, दो की मौत 15 घायल

इंदौर। इंदौर-बैतूल नेशनल हाई-वे पर बुधवार देर रात दो ट्रकों में आमने-सामने की भिड़ंत हो गई। टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि दोनों ट्रक टकराकर पलट गए। एक ट्रक में करीब 25 लोग बैठे थे, जिसमें 15 घायल हो गए। दो महिलाओं की मौत हो गई। तीन गंभीर घायल हैं और उनका निजी अस्पताल में उपचार चल रहा है। ट्रक में बैठी सवारियां नर्मदा स्नान के लिए जा रही थी। एमवाय अस्पताल पुलिस चौकी के मुताबिक हादसा कृषि उपज मंडी कन्नौद के सामने का है। ट्रक (एमपी 09 जीई 6691) में इंदौर और बड़ी कमलापुर की सवारियां (महिलाएं, बच्चे और पुरुष) बैठी थीं। 

एक अंधे मोड़ पर सामने से आ रहे भूसे से भरे ट्रक से उसकी भिड़ंत हो गई और दोनों ट्रक पलट गए। हादसे में 75 वर्षीय सीताबाई पति भेरूलाल निवासी सैफीनगर रतलाम और 65 वर्षीय सुगनाबाई पति चंपालाल निवासी स्कीम-78 की मौत हो गई।जबकि लक्ष्मीबाई (रतलाम), विकास (निरंजनपुर), प्रेमबाई (हरदा), आशीष (स्कीम-78), रानी (मालवीय नगर), आरती (लसूड़िया मोरी), इंद्राबाई (खातेगांव), मंजूबाई (स्कीम-78) और कमला बाई (बड़ी कलमा) सहित करीब 15 लोग घायल हो गए। तीन घायलों को गंभीर अवस्था में निजी अस्पताल में भर्ती किया गया है। 

मां के शव के लिए दो घंटे गुहार लगाता रहा बेटा - सीताबाई पति भेरूलाल का बुधवार देर रात एमवाय अस्पताल शव लाया गया। अस्पताल में सीताबाई का बेटा रणजीतराव व रिश्तेदार गुरुवार सुबह पहुंचे तो एमवाय पुलिस चौकी ने यह कहते हुए शव देने से इन्कार कर दिया कि एमवाय के रिकार्ड में सीताबाई के पति का नाम नर्मदा प्रसाद लिखा है। करीब दो घंटे तक इसे लेकर मशक्कत चलती रही। स्वजन द्वारा आइडी देने पर शव पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया।