33 पंचायतें बनी समरस पंचायत, 25 जून को पहले चरण का मतदान…

प्रदेश के पंचायत चुनाव में 175 ग्राम पंचायतों में निर्विरोध निर्वाचित हुए सरपंच

भोपाल। मध्य प्रदेश के पंचायत चुनाव में 175 ग्राम पंचायतों में सरपंच निर्विरोध निर्वाचित हुए हैं यह आँकड़ा और भी बढ़ सकता है। कई जिलों से फाइनल डेटा अभी आना बाकी है। पंच पद से एक हजार से ज्यादा प्रत्याशियों ने अपना नामांकन वापस ले लिया है। नामांकन वापस लेने की तारीख 10 जून थी। बावजूद इसके नामांकन केंद्रों पर पूरे प्रदेश में कतारें दिखाई दी और यह सिलसिला देर रात तक चलता रहा। पंचायतों के लिए नामांकन प्रक्रिया पूरी: पंचायत चुनाव के लिए पंच, जनपद, जिला पंचायत तक के 10% से ज्यादा नामांकन शुक्रवार को वापस हुए। जबकि इन पदों के लिए पूरे प्रदेश में 5 लाख 93 हज़ार के करीब नामांकन पत्र जमा हुए। जिनमें जिला पंचायत सदस्य के लिए 7772 ,जिला पंचायत सदस्य के लिए 38,265, सरपंच के लिए 1 लाख 45 हज़ार 102, पंचों के लिए 4 लाख 15 हज़ार 520 नामांकन पत्र दाखिल हुए। 

जिला पंचायत सदस्य के लिए इस बार 7502 नामांकन, जनपद पंचायत सदस्य के लिए 41192, सरपंच 1लाख 40 हज़ार 553, पंच 2 लाख 26 हजार 485 नामांकन पत्र दाखिल हुए। समरस पंचायतों को मिलेगा इनाम: मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ऐसी पंचायतों को पुरस्कार देने का भी ऐलान किया है जहां सरपंच और पंच निर्विरोध चुने गए हैं उन्हें समरस पंचायत घोषित करने का ऐलान किया है। राज्य में अच्छा काम करने वाली पंचायतों को गौरव सम्मान भी दिया जाएगा। गौरव सम्मान के लिए सरपंच का मध्यप्रदेश का मूल निवासी होना जरुरी है। पुरस्कार में 5 लाख की सम्मान राशि भी शामिल होगी। एमपी में 150 पंचायतों में निर्विरोध चुने गए सरपंच पंच: प्रदेश में अभी तक 150 से ज्यादा पंचायतों में निर्विरोध सरपंच चुने गए हैं। इन पंचायतों में भोपाल जिले में 3 पंचायत निर्विरोध चुनी गई हैं। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के गृह जिले सीहोर में 33 ग्राम पंचायतें समरस पंचायत बनी हैं। इसके साथ ही 7 वार्डों के प्रत्याशी भी निर्विरोध चुने गए हैं। 

पुरुषों के मुकाबले महिलाएं ज्यादा हैं मैदान में -

  • जिला पंचायत (पुरुष-3544, महिला-4287)। 
  • जनपद पंचायत सदस्य(पुरुष-16632, महिला-21535)। 
  • सरपंच ( पुरुष-67552, महिला- 77290)। 
  • पंच (पुरुष-18,8295, महिला- 21,3209) पहले पहले चरण का मतदान 25 जून।दूसरे चरण का 1 जुलाई और तीसरे चरण का मतदान 8 जुलाई को होना है।मतदान का समय सुबह 7:00 बजे से दोपहर 3:00 बजे तक रहेगा। 

इसके साथ ही -

  • सरपंच पद के लिए वर्तमान और पिछला निर्वाचन निरंतर निर्विरोध होने पर ₹ 7लाख की राशि मिलेगी। 
  • ऐसी ग्राम पंचायत जिसके सरपंच और सभी पंच निर्विरोध चुने गए हैं उन पंचायतों को 7 लाख पुरस्कार राशि दी जाएगी। 
  • ऐसी ग्राम पंचायत जहां सरपंच और सभी पंच महिला निर्वाचित हुए हैं उन्हें 12 लाख रुपए का पुरस्कार दिया जाएगा। 
  • जिस पंचायत में सरपंच सहित सभी पंच पदों पर महिलाओं का निर्वाचन निर्विरोध हुआ है उसे 15 लाख रुपए दिए जाएंगे। साथ ही ऐसी पंचायत को समरस पंचायत का दर्जा दिया जाएगा।