ज़मीन पर गिरकर फटने से किसान की ऊँगली उड़ी…

पेड़ पर लगे बॉम्ब रुपी फल !

बड़वानी जिले में पटाखे की तरह फटने वाले फल मिले हैं। पलसूद से 7 किमी दूर उमेदड़ा गांव में एक पेड़ पर लगे ये फल जमीन पर फेंकने पर फट रहे हैं। ये दिखने में बिल्कुल नारियल जैसे हैं। फल फूटने से डेहरी फलिया निवासी शांतिलाल भायल घायल हो गया। परिजन उसे अस्पताल लेकर पहुंचे, तो मामला सामने आया। पुलिस और वन विभाग के अमले ने गांव पहुंचकर फल के सैंपल लिए हैं। टीम ने एक फल फेंककर देखा, तो वो पटाखे की तरह फटा।

शांतिलाल खेत की मेढ़ पर लगे पेड़ को काट रहा था, तभी एक फल फट गया। चपेट में आने से उसकी एक अंगुली बुरी तरह जख्मी हो गई। लोगों ने मौके पर जाकर देखा तो कुछ फल नीचे पड़े थे, कुछ पेड़ में लगे हैं। वन अमले ने भी फलों की जांच की है। कोई नहीं समझ पा रहा ये कौन सा पेड़ है, फल फूट क्यों रहे हैं।

वनस्पति विशेषज्ञ बीणा सत्य (SBN पीजी कॉलेज बड़वानी) के मुताबिक चाइना में मिलियोढींडड्रोन का पेड़ पाया जाता है। पेड़ के फल बम की तरह फूटते हैं। इनके फलों में बीज पाउडर के रूप में होते हैं। दबाव पड़ने पर फल फूटता है। उसके बीज धुएं की तरह दिखाई देते हैं। जांच के बाद ही स्थिति स्पष्ट होगी कि हमारे यहां जो पेड़ है, वो कौन सा है। ऐसे पेड़ हमारे देश में नहीं पाए जाते हैं। जिले में कड़कड़िया का पेड़ पाया जाता है। इसके फल सूखने पर कड़-कड़ की आवाज करते हैं। हालांकि, ये ब्लास्ट नहीं होता।

वन विभाग मेणीमाता बीट प्रभारी जगदीश मेहता ने बताया कि उन्होंने भी मौके पर जाकर निरीक्षण किया है। फल का सैंपल लिया गया है। फल की फोटो जबलपुर वन विभाग को भेजी है। पलसूद थाना प्रभारी भवानी राम वर्मा ने बताया कि जांच के बाद ही स्थिति स्पष्ट होगी। DFO एसएल भार्गव का कहना है कि उन्होंने तो ऐसे पेड़ पहले कभी नहीं देखे।