विधि विधान के साथ श्री ददरौआ धाम सरकार आतिथ्य में मनाया जाएगा स्थापना दिवस…

श्री सनातन धर्म मंडल का 78वां स्थापना दिवस 12 को

महानगर का प्राचीनतम एवं प्रतिष्ठित श्री सनातन धर्म मंदिर मोहिनी एकादशी 12 मई गुरुवार को अपने गौरवशाली 77 वर्ष पूर्ण कर भगवान श्री चक्रधर का 78वां स्थापना दिवस मनाने जा रहा है। श्री चक्रधर एवं श्री गिरिराज धरण के अभिषेक से इस आयोजन का शुभारंभ होगा मुख्य पुजारी आचार्य पंडित रमाकांत शास्त्री एवं वेद पाठी आचार्य के सानिध्य में रामस्वरूप अग्रवाल भगवान श्री चक्रधर एवं श्री गिरिराज धरण का अभिषेक वैदिक मंत्रोच्चार के बीच पूर्ण विधि-विधान के साथ सभी तीर्थों के जल एवं पंचामृत से किया जाएगा। इसके पश्चात विशेष श्रंगार होगा और श्री चक्रधर भगवान नई पोशाक, श्रंगार वृंदावन से लाया जा रहा है उसे धारण करेंगे। 

इसके पश्चात मंदिर परिसर में प्राचीन शिव मंदिर का जीर्णोद्धार भी किया जाएगा, इसके यजमान संतोष सुनीता गुप्ता है। सांय कालीन सत्र में चक्रधर अलंकरण एवं चक्रधर वरिष्ठ सेवा सम्मान का आयोजन किया जाएगा जिसमें ग्वालियर अंचल एवं प्रदेश के सिद्ध संत परम पूज्य संत महामंडलेश्वर 1008 रामदास जी महाराज श्री चक्रधर सम्मान से अलंकृत होंगे। इसी क्रम में मदन लाल गर्ग एवं विश्वनाथ मित्तल को चक्रधर वरिष्ठ सेवा सम्मान से अलंकृत किया जाएगा। मंडल के पूर्व प्रधानमंत्री रहते हुए गौरवशाली लंबी यात्रा में विशेष योगदान रहा है। इसीलिए इन्हें मुक्त सम्मान से सम्मानित किया जाएगा। भगवान श्री चक्रधर एवं गिरिराज धरण के सम्मुख विशाल छप्पन भोग एवं मनमोहक फूल बंगले का आयोजन भी किया जाएगा। संध्या आरती के उपरांत प्रसाद वितरण होगा इस अवसर पर पूरे मंदिर की विशेष साज-सज्जा एवं विद्युत व्यवस्था की जा रही है।  इसी क्रम में मंडल की ओर से दो विशाल श्रीमद्भागवत कथाओं का आयोजन भी किया जाना है।

पहली श्रीमद्भागवत कथा 8 मई रविवार से श्री सनातन धर्म मंदिर प्रांगण में होने जा रही है जिसमें कथा व्यास की गद्दी से  वृंदावन निवासी परम श्रद्धेय आचार्य पंडित पीयूष जी महाराज द्वारा कथा का वाचन किया जाएगा। द्वितीय श्रंखला में श्रीमद्भागवत कथा 17 मई से 25 मई 2022 तक श्री बालाजी धाम फूलबाग मैदान में आयोजित होगी जिसमें श्रीमद्भागवत कथा का वाचन कथा व्यास के रूप में वृंदावन से पधार रहे परम श्रद्धेय कृष्णानंद जी शास्त्री कथा का वाचन करेंगे। उक्त जानकारी प्रेस वार्ता के दौरान अध्यक्ष कैलाश मित्तल एवं महेश मिश्रा ने पत्रकारों को दी। पत्रकारों को दी। कि उन्होंने मीडिया के माध्यम से शहरवासियों से निवेदन किया है कि उक्त कथा का रसास्वादन करने के लिए अवश्य पधारें।