सर्चिंग के लिए जंगल में जाते समय गिरफ्तार आरोपियों ने…

एसआई की पिस्टल छीनकर भागने का प्रयास, चेतावनी के बाद आरोपियों का किया शॉर्ट एनकाउंटर

गुना। विगत 13-14 मई की मध्यरात्रि में आरोन थाना अंतर्गत ग्राम शहरोक एवं सपा बरखेड़ा के बीच जंगल में वन्य जीवों के शिकार किए जाने की सूचना पर गए पुलिस बल की शिकारियों के साथ हुई मुठभेड़ में एक उपनिरीक्षक सहित तीन पुलिसकर्मी शहीद हो गए थे। पुलिस द्वारा इस हृदय विदारक घटना को अंजाम देने वाले बदमाशों की तलाशी में गत 14 मई की सुबह ग्राम बिदोरिया से घटना के एक आरोपी नौशाद खान की लाश उसके घर से बरामद की गई एवं अन्य आरोपियों की तलाश में लगातार सर्चिंग की गई। पुलिस की सर्चिंग के दौरान 14 मई की शाम को ही राधौगढ के पास जंगल में घटना के कुछ बदमाशों से पुलिस की मुठभेड हो गई जिसमें एक आरोपी शहजाद खान निवासी ग्राम बिदोरिया को पुलिस की गोली लगने से उसकी मृत्यु हो गई एवं दो आरोपियों शानू खान एवं जिया खान को पकड़ लिया गया था।

उक्त प्रकरण में गिरफ्तार शुदा आरोपीगण शानू उर्फ शफाक खांन पुत्र शरीफ खान उम्र 27 साल निवासी साडा कॉलोनी राघोगढ़ एवं आरोपी मोहम्मद जिया खान पुत्र अमीर मोहम्मद खान उम्र 28 साल निवासी शाढौरा, जिला अशोकनगर ने पूछताछ पर उनके द्वारा शिकार किए गए हिरण एवं एक हथियार लोहे का बका को राधौगढ के जंगलों में छिपाकर रखना बताने पर आरोन थाना प्रभारी निरीक्षक विनोद सिंह राठौर एवं बजरंगगढ थाना प्रभारी उपनिरीक्षक अमित अग्रवाल पुलिस बल के साथ गिरफ्तार दोनो आरोपियों को साथ लेकर हथियार एवं शिकार किए गए हिरण की बरामदगी हेतु, शासकीय वाहन से उनके द्वारा बताए स्थान पर जा रहे थे। दौरान बीच रास्ते पर पुलिस वाहन के रास्ते में ग्राम भोढनी की घाटी पर पहुंचने पर आरोपी शानू खान द्वारा अचानक से पुलिस वाहन की स्टेरिंग मोड़ दी, जिससे गाड़ी रोड से नीचे उतरकर पलटते-पलटते बच गई, तभी दूसरे आरोपी जिया खान ने थाना प्रभारी बजरंगढ उपनिरीक्षक अमित अग्रवाल की शासकीय पिस्टाल को छीनने का प्रयास किया।

 इस झूमाझटकी में उपनिरीक्षक अमित अग्रवाल एवं वाहन चालक आरक्षक दीपक ओझा घायल हुए है। तथा इस संघर्ष के बाद दोनों आरोपियों ने पुलिस जीप से निकलकर भागने का प्रयास किया तो जिन्हे रोकने के लिए पुलिस बल द्वारा चेतावनी देते हुए पहले हवाई फायर किया लेकिन वह नहीं रुके तो उन आरोपियों के पैरों में गोलियां मारकर शॉर्ट एनकाउंटर किया गया। पुलिस द्वारा दोनो आरोपियों को प्राथमिक उपचार हेतु प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र आरोन लाया गया जहां उनका उपचार चल रहा है साथ ही घायल उपनिरीक्षक अमित अग्रवाल और चालक दीपक ओझा का भी इलाज चल रहा है। उक्त घटना पर से आरोपीगण जिया खान एवं शानू खान के विरुद्ध थाना आरोन में अप.क्र. 217/22 धारा 353,332,224,393,186 भादवि के तहत प्रकरण पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया है।