राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार ने विभिन्न विभागों के अधिकारियों की ली बैठकें…

वीरपुर बाँध क्षेत्र के विस्थापितों के लिये बेहतर से बेहतर सुविधाएँ जुटाएँ : श्री कुशवाह

ग्वालियर। वीरपुर बाँध क्षेत्र के समीप निवासरत जिन परिवारों को विस्थापित किया जाना है उनके लिये प्रस्तावित आवासीय स्थल पर बेहतर से बेहतर बुनियादी सुविधाएँ जुटाई जाएँ। आवासीय परिसर में पानी, बिजली, सड़क इत्यादि बुनियादी सुविधाओं की कमी न हो। इस आशय के निर्देश उद्यानिकी एवं खाद्य प्रसंस्करण राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) भारत सिंह कुशवाह ने जल संसाधन विभाग के अधिकारियों को दिए। उन्होंने प्रस्तावित रिंग रोड़ की जानकारी भी अधिकारियों से ली। साथ ही वीरपुर बांध, मामा का बांध एवं गिरवाई क्षेत्र को पर्यटन सर्किट के रूप में विकसित करने के प्रस्ताव पर तेजी से काम करने को कहा। 

राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार ने रविवार को गाँधी रोड़ ग्वालियर स्थित अपने स्थानीय निवास पर जल संसाधन, लोक निर्माण एवं स्कूल शिक्षा विभाग के अधिकारियों की बैठक लेकर ग्वालियर ग्रामीण विधानसभा क्षेत्र के विकास कार्यों की समीक्षा की। साथ ही कार्यों को जल्द से जल्द और पूरी गुणवत्ता के साथ पूर्ण कराने के निर्देश दिए। श्री कुशवाह ने लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि ग्वालियर ग्रामीण क्षेत्र में निर्माणाधीन सड़कें तय समय-सीमा के भीतर पूर्ण की जाएं। उन्होंने बरसात से पूर्व सड़कों का काम पूर्ण करने पर बल दिया। इसी तरह जल संसाधन विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि पुराने जलाशयों का जीर्णोद्धार युद्ध स्तर पर करें, जिससे बरसात के पानी को सहेजा जा सके। उन्होंने कहा मुरार ग्रामीण क्षेत्र में हरसी हाईलेवल नहरों के काम को भी तेजी से मूर्तरूप दिया जाए। 

राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार ने जिला शिक्षा अधिकारी को निर्देश दिए कि ग्वालियर ग्रामीण क्षेत्र में सीएम राईज स्कूल के लिये जल्द से जल्द स्थल चयन कर भूमिपूजन कराएँ, जिससे सरकार की मंशा के अनुरूप ग्रामीण बच्चों को उच्च कोटि की शिक्षा मिल सके। उन्होंने सीएसआर मद से स्कूलों में मंजूर कार्यों को भी जल्द से जल्द पूर्ण करने पर बल दिया। इन बैठकों में मुख्य अभियंता लोक निर्माण आर एल भारती, मुख्य अभियंता जल संसाधन आर पी झा, कार्यपालन यंत्री लोक निर्माण ओमहरि् शर्मा व कार्यपालन यंत्री जल संसाधन आर एल शर्मा तथा जिला शिक्षा अधिकारी विकास जोशी सहित अन्य संबंधित अधिकारी मौजूद थे।