ग्वालियर खंडपीठ ने चुनाव आयोग से मांगा जवाब…

राज्यसभा चुनाव में जानकारी छुपाने पर सिंधिया समेत तीन सांसदों को नोटिस

ग्वालियर। मध्यप्रदेश के तीन राज्यसभा सदस्यों और एक पूर्व विधायक को हाईकोर्ट ने नोटिस जारी किया है। यह नोटिस ग्वालियर खंडपीठ ने राज्यसभा सदस्य ज्योतिरादित्य सिंधिया, दिग्विजय सिंह, सुमेर सिंह सोलंकी और पूर्व विधायक फूल सिंह बरैया को यह नोटिस भेजा है। कांग्रेस नेता एवं पूर्व मंत्री डॉ. गोविंद सिंह की याचिका पर यह नोटिस जारी किया गया है। याचिका में राज्यसभा सदस्य के रूप में चुने गए ज्योतिरादित्य सिंधिया के निर्वाचन को चुनौती दी गई थी। 

इसमें कांग्रेस नेता डॉ. गोविंद सिंह की ओर से आरोप लगाया गया था कि सिंधिया ने नामांकन पत्र दाखिल करते वक्त तथ्य छुपाए हैं। याचिकाकर्ता ने अपनी याचिका में दावा किया है कि 2018 में भोपाल के श्यामला हिल्स थाने में ज्योतिरादित्य सिंधिया, कमलनाथ और दिग्विजय सिंह के खिलाफ एफआइआर दर्ज हुई थी, इसके बाद सार्वजनिक रूप से उन्होंने स्वीकार भी किया था, लेकिन सिंधिया ने अपने नामांकन में एफआइआर वाला तथ्य छुपाया है। 

इसलिए सिंधिया का राज्यसभा चुनाव शून्य घोषित होना चाहिए। बाद में जबलपुर से यह मामला ग्वालियर बेंच में स्थानांतरित किया गया था। इस पर ग्वालियर खंडपीठ ने सभी पक्षों को नोटिस जारी किया है। इसमें तीन राज्यसभा सदस्य एवं एक पूर्व विधायक शामिल हैं। इससे पहले 27 अगस्त 2020 को भी ग्वालियर खंडपीठ ने सिंधिया को नोटिस जारी किया था। साथ ही चुनाव आयोग से भी जवाब मांगा था।