ज्योतिरादित्य सिंधिया की रोमानिया के मेयर से नोकझोंक...

रोमानिया के मेयर ने सिंधिया को लगाई फटकार !

 

यूक्रेन में फंसे भारतीयों को लाने के लिए रोमानिया पहुंचे केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया और रोमानिया के मेयर का एक वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है। इस वीडियो में सिंधिया और रोमानिया के मेयर के बीच भारतीय छात्रों को लेकर कुछ बात बातचीत होती दिख रही है। बातचीत के दौरान रोमानिया के मेयर और सिंधिया के बीच थोड़ी गर्मागर्मी दिख रही हैं। हालांकि सिंधिया बातचीत के दौरान रोमानिया प्रशासन की ओर से भारतीय छात्रों को लेकर की गई मदद के लिए शुक्रिया कहते दिख रहे हैं। बताया जा रहा है कि सिंधिया रोमानिया के एक शहर में ठहराए गए भारतीय बच्चों से मिलने पहुंचे थे। जब वे सरकार के प्रयासों को लेकर छात्रों से बात कर रहे थे तभी सिटी के मेयर तल्ख़ लहजे में उन्हें टोक दिया, जिसका वीडियो वायरल हो रहा है। रोमानिया के मेयर कहते हैं कि आप सिर्फ अपनी बात कीजिए।

वीडियो में दिखता है कि इस पर सिंधिया थोड़ा असहज होते हैं और एक तरह से चिढ़कर कहते हैं कि मैं क्या बोलूंगा यह मैं तय करूंगा? मेयर फिर से उन्हें करारा जवाब देते हुए कहते हैं कि आप अपनी बात कीजिए, हम इन बच्चों के रहने और खाने का प्रबंध कर रहे हैं, आप नहीं। आप इन्हें ये बताईये कि घर कब ले जा रहे हैं। वीडियो में दिखता है कि मेयर की बात पर वहां बैठे छात्र ताली बजाकर उनका समर्थन करते हैं। वीडियो को लेकर सोशल मीडिया पर ज्योतिरादित्य सिंधिया जमकर ट्रोल हो रहे हैं। हालांकि G.News 24 इस वायरल वीडियो की पुष्टि नहीं करता है। रोमानिया के मेयर और ज्योतिरादित्य सिंधिया के बीच तू तू-मैं मैं के इस वीडियो को लेकर कांग्रेस ने कई नेताओं ने ट्वीट कर मोदी सरकार को घेरना शुरू कर दिया है। कांग्रेस नेता सलमान निजामी ने वीडियो ट्वीट करते हुए लिखा कि 'जुमला भारत में काम करता है लेकिन विदेश की धरती पर नहीं।

देखिए राहत शिविर में रोमानिया मेयर ने कैसे ज्योतिरादित्य सिंधिया को पाठ पढ़ाया, कहा कि आप कब यहां से जाओगे। राहत शिविर में जगह और खाना में हम दे रहे हैं, आप नहीं। कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि इस दौरान छात्रों ने ताली बजाई।' बता दें कि, भारत ने रूस-यूक्रेन युद्ध के बीच फंसे भारतीयों को सुरक्षित वापस लाने के लिए ऑपरेशन गंगा चला रखा है। मोदी सरकार के 4 मंत्री यूक्रेन के आसपास स्थित देशों में भेजे गए हैं, जहां से वे भारतीयों को सुरक्षित स्वदेश भेज रहे हैं। भारत सरकार ने युद्धग्रस्त यूक्रेन में फंसे भारतीय छात्रों को बाहर निकालने के लिए मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया को रोमानिया और मोलदोवा, किरेन रिजिजू स्लोवाकिया, हरदीप सिंह पुरी को हंगरी और वीके सिंह पोलैंड भेजा है। चारों मंत्री अब तक करीब 3500 भारतीय छात्रों को स्वदेश भेज चुके हैं। मंत्रियों पर राहत के साथ सियासत चमकाने ओर ऑपरेशन के प्रचार का आरोप भी लग रहा है।