सर्जरी विभाग के द्वारा एनाट्रोपिक नेफ्रोलिथोटोमी द्वारा…

दतिया में प्रथम बार गुर्दे की पथरी का ऑपरेशन सम्पन्न

 

दतिया। शासकीय चिकित्सा महाविद्यालय द्वारा समय 2 पर मरीजों के हित के लिए कार्य किया जाता रहा है इसी क्रम में आज दिनांक 04 मार्च को, दशरथ रायकवार उम्र 45 वर्ष, बिजौली दतिया की गुर्दे की पथरीयों का आपरेशन, एना ट्रोपिक लिथोटोमी विधि से  मेडिकल कॉलेज के सर्जरी विभाग के डॉ के एन आर्य एवं डॉ ब्रजेन्द्र स्वरूप, डॉ जॉय, डॉ मुदित, डॉ शीतल के द्वारा सम्पन्न हुआ।

इस दौरान मरीज को बेहोशी डॉ मंजुलता शाक्य एवं डॉ डिंपल ने दिया, नर्सिंग स्टाफ में खुशबू, अतुल एवं रवि साथ में रहे। ज्ञात हो कि मरीज पिछले 3 सालों से इस समस्या से परेशान था, जब मरीज को डॉ के एन आर्य द्वारा देखा गया तब मात्र 2 दिनों के अंदर यह आपरेशन कर दिया गया है। इस विधि में मरीज के गुर्दों को बर्फ से ढंक कर कोल्ड इस्चिमिया पैदा किया जाता है और फिर रक्त धमनियों को क्लैंप कर दिया जाता है और गुर्दे को दो हिस्सों में बांट कर  पथरियों को निकाल दिया जाता है।

चूंकि मरीज के गुर्दे में पथरियों की संख्या ज्यादा थी और सामान्य तरीके से ऑपेरशन में पथरियां एक बार में निकल नहीं पाती हैं, इसलिए यह आपरेशन किया गया , प्राइवेट हॉस्पिटल्स में इस ऑपेरशन का खर्च 2 लाख रुपये के करीब आता है। डीन डॉ दिनेश उदेनिया ने सभी चिकित्सकों को बधाई दी है और मरीजों के हित में कार्य करने के लिए प्रोत्साहित किया।