आरोपितयों से सरगना तक पहुंचेगा वन विभाग…

सोनचिरैया अभ्यारण्य में अवैध उत्खनन करते हुए छह को पकड़ा

 

ग्वालियर। सोनचिरैया अभ्यारण्य के नोटिफाइड क्षेत्र में पत्थर का अवैध उत्खनन करते हुए आरोपिताें को पहली बार रंगेहाथों पकड़ा गया है वन विभाग की टीम ने तिघरा क्षेत्र में आने वाले अभ्यारण्य क्षेत्र में यह कार्रवाई की है। मौके से छह आरोपितों को पकड़ा गया जो फर्शी पत्थर का उत्खनन कर रहे थे। उत्खनन करने वाली सामग्री भी जब्त की गई है। वन विभाग ने नोटिफाइड क्षेत्र के तहत इस मामले में केस दर्ज किया है,वहीं साक्ष्यों को भी शामिल किया गया है।

अभी तक अभ्यारण्य क्षेत्र में पत्थर का उत्खनन तो पकड़ा गया, लेकिन वन विभाग के पहुंचने से पहले ही आरोपित भाग जाते थे। डीएफओ बृजेंद्र श्रीवास्तव ने बताया कि सोनचिरैया अभ्यारण्य का क्षेत्र तिघरा तक लगता है। तिघरा के इसी क्षेत्र में अवैध उत्खनन की जानकारी मिली थी और वन विभाग की टीम ने मौके पर जाकर कार्रवाई की। यहां अवैध उत्खनन का कार्य श्रमिक वर्ग के लोग कर रहे थे जिन्हें सुनियोजित ढंग से अवैध उत्खनन के लिए ही भेजा गया था। छह लोगों को मौके से पकड़ पूछताछ की गई तो उन्होने यही बताया कि मजदूरी करने आए थे।

अब वन विभाग इन लोगों से यह पता करेगा कि किसने भेजा और कौन इस उत्खनन का मास्टरमाइंड है यह भी बताया गया है कि आसपास के गांवों में रहने वाले कुछ लोग भी अवैध उत्खनन कराते हैं। हमेशा मिलती थी असफलता: सोन चिरैया अभ्यारण्य में पत्थर का अवैध खनन होता है। लेकिन वन विभाग जब जब अवैध खनन करने वाले माफिया पर कार्रवाई करने जाती तो वे भाग जाते। कुछ ही मामलों में विभाग को सफलता मिलती थी। लेकिन इस बार कार्रवाई में विभाग को छह आरोपित पकड़ने में सफलता मिली है