यूक्रेन को लेकर पश्चिमी देशों के साथ जारी तनाव के बीच…

रूस के राष्ट्रपति ने परमाणु प्रतिरोधी बलों को दिया अलर्ट पर रहने का आदेश

 

नई दिल्ली। रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने यूक्रेन को लेकर पश्चिमी देशों के साथ जारी तनाव के बीच रूसी परमाणु प्रतिरोधी बलों को अलर्ट पर रहने का आदेश दिया है। इस बीच यूक्रेन ने बेलारूस की सीमा पर रूस के साथ बातचीत के हामी भर दी है। इससे पहले रूस-यूक्रेन संकट के समाधान में फिर अड़चन तब गई जब यूक्रेन ने बेलारूस में बातचीत करने का रूसी प्रस्ताव ठुकरा दिया था। यूक्रेन के राष्ट्रपति ज़ेलेंस्की ने कहा था कि जहां से हमारे देश पर हमले हुए, वहां हम बातचीत नहीं कर सकते।

इससे पहले Kremlin बेलारूस में यूक्रेन के साथ बातचीत करने के लिए तैयार हो गया था। रूस के रक्षा, विदेश मंत्रालयों के कई अधिकारी और मंत्री समेत राष्ट्रपति प्रशासन के कई अधिकारी वार्ता के लिए बेलारूस के होमेल शहर पहुंच चुके थे। बेलारूस पहुंचे रूसी दल ने कहा कि हम बातचीत के लिए तैयार हैं और हम यूक्रेन के प्रतिनिधि मंडल का इंतजार कर रहे हैं। वहीं, दूसरी ओर रूसी सेना यूक्रेन के दूसरे बड़े शहर Kharkiv में घुस गई हैं, जहां पर युद्ध जारी है। इससे पहले कीव में रूसी हमले को नाकाम करने के यूक्रेनी सरकार के दावे के बाद रूस ने सेना को राजधानी पर चौतरफा हमला करने का कथित आदेश दिया है।

मामले से जुड़ी अहम जानकारियां -

  • रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने यूक्रेन को लेकर पश्चिमी देशों के साथ जारी तनाव के बीच रूसी परमाणु प्रतिरोधी बलों को अलर्ट पर रहने का आदेश दिया है। इस बीच यूक्रेन ने बेलारूस की सीमा पर रूस के साथ बातचीत के हामी भर दी है। उधर रूसी सेना ने रविवार को चौथे दिन भी यूक्रेन के कई शहरों पर आर्टिलरी और क्रूज मिसाइलें दागीं। हालांकि यूक्रेन ने दावा किया कि उसने देश के दूसरे सबसे बड़े शहर खारकीएव में घुस चुकी रूसी सेना को खदेड़ दिया है।
  • कीव में कुछ देर पहले हवाई हमले के सायरन बजाए गए हैं। रूसी सेना ने यूक्रेन से यूरोप ले जाने वाली  गैस  की एक पाइपलाइन को उड़ा दिया है। इसके अलावा रूस ने यूक्रेन के कई तेल और गैस के ठिकानों पर हमला किया है। हालांकि,यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोडिमिर ज़ेलेंस्की ने कहा है कि राजधानी कीव यूक्रेन के हाथों में ही है।
  • हवाई हमलों की आशंका के मद्देनजर राजधानी कीव में कर्फ्यू सख्त कर दिया गया है। कर्फ्यू तोड़ने वाले हर व्यक्ति पर दुश्मन की तरह कार्रवाई करने के निर्देश सेना को दिए गए हैं। जर्मनी ने यूक्रेन को रॉकेट लांचर की आपूर्ति करने का फैसला किया है, जबकि अमेरिका ने यूक्रेन को पहले ही 35 करोड़ डॉलर की सैन्य मदद देने का ऐलान किया है।
  • रूसी सेना ने यूक्रेन के शहरों को तोपखाने और क्रूज मिसाइलों से घेर रखा है। समाचार एजेंसी एएफपी ने बताया कि उनके सैनिक यूक्रेन के दूसरे सबसे बड़े शहर खार्किव में घुस गए हैं, क्षेत्रीय प्रशासन के प्रमुख ओलेग सिनेगुबोव ने कहा कि यूक्रेनी सेना "दुश्मनों को खत्म कर रही है।"
  • कीव से 30 किलोमीटर दूर वासिलकीव में ऑयल टर्मिनल में धमाके सुनाई दिए हैं। कीव प्रसासन ने बताया है कि हमले की वजह से ऑयल टर्मिनल में आग लग गई है। वहां जहरीला धुआं निकल रहा है।
  • जर्मनी और उसके पश्चिमी सहयोगी देश रूस को SWIFT वैश्विक भुगतान प्रणाली से बाहर करने पर सहमत हो गए हैं। जर्मन सरकार के एक प्रवक्ता ने शनिवार को यूक्रेन पर रूस के आक्रमण को रोकने के उद्देश्य से लगाए गए प्रतिबंध की तीसरी किश्त का ऐलान किया।
  • संयुक्त राज्य अमेरिका, फ्रांस, कनाडा, इटली, ग्रेट ब्रिटेन और यूरोपीय आयोग के साथ सहमत प्रतिबंधों में रूसी करेंसी रूबल का समर्थन करने के लिए रूस के केंद्रीय बैंक की क्षमता को सीमित करना भी शामिल है। प्रवक्ता ने कहा, नया प्रतिबंध धनी रूसियों और उनके परिवारों के लिए "गोल्डन पासपोर्ट" को भी समाप्त कर देगा और रूस और अन्य जगहों पर व्यक्तियों और संस्थानों को लक्षित करेगा जो यूक्रेन के खिलाफ युद्ध का समर्थन करते हैं।
  • यूक्रेन के राष्ट्रपति ज़ेलेंस्की ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बात की है और रूस के आक्रमण की निंदा करने के लिए भारत द्वारा UNSC में वोटिंग से परहेज करने के बाद संयुक्त राष्ट्र में "राजनीतिक समर्थन" की मांग की है।
  • यूक्रेन के स्वास्थ्य मंत्री विक्टर ल्याशको ने कहा कि रूस के साथ हुए संघर्ष में अब तक तीन बच्चों सहित 198 नागरिक मारे गए हैं जबकि 1,115 घायल हुए हैं। यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोडिमिर ज़ेलेंस्की के एक सलाहकार ओलेक्सी एरेस्टोविच ने कहा कि यूक्रेन पर मास्को के हमले में अब तक लगभग 3,500 रूसी सैनिक मारे गए या घायल हुए हैं। ओलेक्सी एरेस्टोविच ने कहा, "हम कीव के आसपास दुश्मन पर हमला कर रहे हैं। फिलहाल आगे नहीं बढ़ रहे हैं।"
  • अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने अमेरिकी विदेश विभाग को शुक्रवार को अमेरिकी भंडार से यूक्रेन को अतिरिक्त $350 मिलियन मूल्य के हथियार जारी करने का निर्देश दिया है।