पुलिस भी नहीं दे पाई सुरक्षा !

शिव'राज' में दलित दूल्हे के घोड़ी चढ़ने से खफा दबंगों ने किया पथराव

 

सागर। बंडा थाना क्षेत्र में दलित दूल्हे के घोड़े पर बैठने से विवाद इतना बढ़ गया कि देर रात दबंगों ने दलितों के मकान और उनके वाहनों में तोडफोड़ कर दी। पुलिस ने इस मामले में चार नामजद और 15 अन्य के खिलाफ बलवा सहित अन्य धाराओं में मामला दर्ज किया है। पुलिस ने कुछ आरोपियों को गिरफ्तार भी कर लिया है। एडीशनल एसपी विक्रम सिंह ने बताया कि रविवार को बंडा थाना के गनियारी गांव में दिलीप अहिरबार की शादी थी। बारात रवाना होने से पहले दूल्हे को पूजन के लिए घोड़े पर सवार होकर जाना था। दबंगों को इस बात पर एतराज था। इसकी शिकायत पुलिस अधीक्षक सागर को दर्ज कराई गई थी।

तनाव के हालात में पुलिस की मौजूदगी में दूल्हे को घोड़े पर बिठाकर पूजन करवाया गया। पुलिस की मौजूदगी में काम शांतिपूर्ण ढंग से निपट गया, लेकिन जैसे ही शाम को बारात रवाना हुई। गांव के दबंगों ने दलित दूल्हे के घर पर पथराव किया। घर के बाहर रखे वाहनों में जमकर तोड़फोड़ की। घटना के बाद गांव में तनाव के हालात बन गए। सूचना पर पुलिस ने जाकर स्थिति को काबू में किया। फिलहाल गांव में पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।  

एडीशनल एसपी विक्रम सिंह ने बताया कि 23 जनवरी को बंडा थाना के ग्राम गनियारी में कुछ असामाजिक तत्वों ने शादी में बारात रवाना होने के बाद फरियादी प्रमोद सहित अन्य घरों पर पत्थराव किया। प्रमोद के रिश्तेदार की कार को लाठी डंडों और पत्थरों से तोड़फोड़ की। यही नहीं फरियादी के साथ मारपीट भी की। इस मामले में पुलिस ने 15-20 आरोपियों पर कई धाराओं में मामला दर्ज किया। इनमें चार नामजद भी हैं। शिकायत पर पुलिस ने त्वरित कार्रवाई कर कुछ आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। साथ ही कुछ लोगों से पूछताछ की जा रही है। गांव में पुलिस बल तैनात किया गया है। फिलहाल शांति है।