पूरे हिन्दुस्तान के लगभग 22 प्रदेशों 25 देशों में कर चुका है अपना विस्तार…

वर्चुअल रूप में हुआ भारत माता अभिनंदन सम्मान समारोह 2022 

इंदौर। भारत माता अभिनंदन सम्मान 2022 समारोह 9 जनवरी 2022 को, स्वामी विवेकानंद जी जयंती 12 जनवरी युवा दिवस के उपलक्ष्य पर वृहद स्तर का अंतर्राष्ट्रीय सम्मान समारोह आयोजित किया गया। आयोजन अंतर्राष्ट्रीय संरक्षक डॉ विजय कुमार सालवीय द्वारा किया गया। भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा भी 26 दिसंबर को "वीर बाल दिवस" घोषित कर दिया गया है, जो कि संगठन का मूल उद्देश्य रहा हैं।समाज की देश विदेश की अनेक समाज सेवी संस्थाएं और प्रतिभा सम्मान से सुशोभित हुइ। देश विदेश के प्रसिद्ध समाज सेवी व्यक्तियों, संस्थाओं, कवियों साहित्यकारों शिक्षाविदों,वकीलों , चिकित्सकों, पर्यावरण संरक्षको , गरीब असहाय लागों की सहायता करने वालों ,पशु पक्षी प्रेमियों अर्थात बहुत ही समाज सेवी व्यक्तियों को सम्मान से सम्मानित किया गया।भारत माता अभिनंदन संगठन पूरे हिन्दुस्तान के लगभग 20-22 प्रदेशों 25 देशों में अपना विस्तार कर चुका है। यह सम्मान उनको दिया जाता हैं जिन्होंने अपनी सेवा के द्वारा अपने देश को संपूर्णता प्रदान की है और वह हमेशा अच्छे कार्यों में संलग्न रहकर देश के प्रति पूर्ण तरह समर्पित रहते हैं।

कार्यक्रम कि शुरुआत संस्था के अंतर्राष्ट्रीय संरक्षक डाॅ.विजय कुमार सालविय ने सभी का अभिवादन कर किया सम्मान समारोह कार्यक्रम प्रारंभ डॉ माधवी बोरसे के काव्य पाठ से हुआ, तत्पश्चात् ग्रीस के शिक्षा मंत्रालय से संबंधित अंतर्राष्ट्रीय प्रेरक रानिया लंपु द्वारा वक्तव्य दिया गया एवं सम्मानित प्रतिभाओं को सम्मान पत्र जारी किया गया। डाॅ. आदेश लेखी मलेशिया, डॉ मनी मुथा द्वारा महिलाओं के कल्याण हेतु कार्यों पर प्रकाश डाला। डॉ वी जे केरोलिन द्वारा महिलाओं और बच्चों की शिक्षा को बढ़ावा देने वाली योजनाओं की जानकारी दी गई। डॉ कल्पना सतिजा कच्छ यूनिवर्सिटी भूज से, डॉ देवेन्द्र वाजपेई ने पर्यावरण के विकास कार्य पर एवं पांच बार स्वच्छता नंबर वन इंदौर पर  डा अरुणा सिन्हा ने प्रकाश डाला। डॉ अनुराधा चौकसे द्वारा महिलाओं को आत्म निर्भर भारत के संदर्भ में सशक्त करने हेतु सम्मान दिया गया। राजीव कुमार गंगानगर, प्रिया चौहान सबल नारी आदि संस्था द्वारा महिलाओं के कल्याण हेतु कार्य किया गया है। डॉ रागुनाथ परक्कल ने मानव विचारो को सकारात्मक दिशा देने पर जोर दिया जिससे युवा पीढ़ी स्वामी विवेकानंद जी के आदर्शो को अपनाए।

डायरेक्टर टाइम्स इंडिया टीवी डॉट कॉम के डॉ राजाराव , जी न्यूज 24 के रवि यादव , हैप्पीनेस कलब इंदौर इंटरनेशनल और अंतर्राष्ट्रीय आर एंड डी क्रिएटिविटी ऑर्गेनाइजेशन, जर्नलिस्ट एसोसिएशन पत्रकार संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष राकेश डी यादव ने आप सभी का हार्दिक स्वागत किया। सत्ता सरकार संजय ताम्रकार, घमासान डॉट कॉम नीरज राठौर उपस्थित रहे। कार्यक्रम संचालक डॉ माधवी बोरसे विवेकानंद जी के लिए वीरता काव्य पाठ किया गया एवं ऋतु गर्ग द्वारा दिवस की महत्ता पर प्रकाश डाला गया। उपस्थित सभी मीडिया सदस्यों द्वारा इस कार्यक्रम की भूरी भूरी प्रशंसा की गई और देश की एकता और अखंडता हेतु इन दिनों का होना अत्यंत आवश्यक बताया है। इसके व्यापक प्रचार-प्रसार पर जोर दिया गया। सभी ने इसे राष्ट्रीय मान्यता दिलवाने के लिए अपनी सहमति जताई एवं इसके लिए सभी ने कहा हर संभव प्रयास किया जाएगा यह एक जन जागरण देशभक्ति से ओतप्रोत प्रोग्राम है। देश प्रेम की भावना को जागृत करता है। भारत माता अभिनन्दन सम्मान पत्रों का वितरण संगठन के राष्ट्रीय एवं संस्थापक अध्यक्ष एडवोकेट पुरुषोत्तम दास मित्तल जी द्वारा भारत माता अभिनंदन 2022 सम्मान पत्र द्वारा सम्मानित किया गया। विस्तृत जानकारी देते हुए उन्होंने कहा की राष्ट्र को जोड़ने के कार्यक्रम समय समय पर किए जाते रहेंगे।यह सभी कार्यक्रम ऑनलाइन किया गया।

देश के उच्च कोटि के व्यक्तियों की भारत माता के प्रति श्रद्वा ने संगठन के राष्ट्रव्यापि अभियानो को सम्बल प्रदान किया है जो कि बहुत ही गर्व का विषय है।11 ितंबर1893को भारत की सभ्यता और संस्कृति के नाम पर स्वामी विवेकानंद जी के कारण भारत देश का भारत माता का विश्व व्यापी अभिनन्दन हुआ था। जिसे भारत माता अभिनंदन दिवस के रूप में राष्ट्रिय मान्यता हेतु मनाया जाता है। धन्यवाद ज्ञापन यू एस से डॉक्टर विजय कुमार सालवीय द्वारा दिया गया उन्होंने 12 जनवरी युवा दिवस की महत्ता के लिए बहुत-बहुत अभिवादन किया एवं संगठन संस्थापक अध्यक्ष पीडी मित्तल जी की सराहना करते हुए कहा कि इस विशिष्ट दिन को हम सभी के समक्ष लाने के लिए, हम सभी को अपनी भारत माता के प्रति कर्तव्य बोध करवाने के लिए बहुत-बहुत आभारी रहेंगे। राष्ट्रीय प्रभारी ऋतु गर्ग द्वारा अंतिम संबोधन भारत माता की लिए समर्पित कुछ पंक्तियों द्वारा किया गया। भारत भूमि को प्रणाम करूं और वंदन करूं मातृभूमि के रखवालों की, चरण रज मैं मस्तक पर रखूं। मां की ममता और छांव को, मैं शत शत नमन करूं।