ऊर्जा मंत्री ने शिंदे की छावनी और गेंडेवाली सड़क का किया निरीक्षण…

सड़कों के निर्माण में गुणवत्ता पर रखें विशेष ध्यान : ऊर्जा मंत्री

ग्वालियर।  ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने कहा है कि अमृत परियोजना के तहत शहर में डाली गई सीवर लाईन और पानी की लाईन के बाद सड़कों के निर्माण का कार्य तेजी के साथ और गुणवत्ता से किया जाए। जिन सड़कों पर भारी यातायात निकलता है वहाँ पर सड़कों की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान दिया जाए। ऊर्जा मंत्री ने शनिवार को शिंदे की छावनी से जेल रोड़ की ओर जाने वाली सड़क और गेंडेवाली सड़क का निरीक्षण करते हुए यह बात कही। ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने नगर निगम आयुक्त किशोर कान्याल सहित एसडीएम प्रदीप तोमर और नगर निगम के अधिकारियों के साथ भ्रमण किया। 

उन्होंने शिंदे की छावनी से जेल रोड़ जाने वाली सड़क के निरीक्षण के दौरान कहा कि सड़क के दोनों ओर अमृत परियोजना के तहत सीवर एवं पानी की लाईनें डाली गई हैं। लाईन डालने के पश्चात सड़क के निर्माण का कार्य पूर्ण गुणवत्ता के साथ किया जाए ताकि लोगों को आगे कोई परेशानी न हो। उन्होंने यह भी निर्देशित किया है कि निगम के तकनीकी अधिकारी सड़क निर्माण के समय गुणवत्ता का स्वयं परीक्षण करें ताकि सड़क बनने के पश्चात किसी प्रकार की परेशानी न हो। 

ऊर्जा मंत्री ने गेंडेवाली सड़क का कार्य भी शीघ्रता से शुरू करने की बात कही। इस सड़क पर भी अमृत परियोजना के तहत लाइन डालने का कार्य किया गया है। अमृत परियोजना का कार्य पूर्ण होने के पश्चात सड़क का निर्माण कार्य शीघ्रता से किया जाए ताकि लोगों को आवागमन की बेहतर सुविधायें उपलब्ध हो सकें। उन्होंने शहर के विभिन्न चौराहों का विकास भी करने की बात कही। चौराहे के सौंदर्यीकरण के कार्य में जनप्रतिनिधियों एवं अन्य लोगों से सहयोग भी लेने की बात कही। नगर निगम आयुक्त किशोर कान्याल ने निरीक्षण के दौरान निगम के इंजीनियरों को निर्देश दिए कि वे सड़क के निर्माण के समय गुणवत्ता पर विशेष ध्यान दें। 

सड़क निर्माण के समय भी इंजीनियर स्वयं मौके पर उपस्थित रहकर गुणवत्ता को देखें, किसी भी सड़क में गुणवत्ता की कमी नहीं होना चाहिए। ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने निरीक्षण के दौरान यह भी कहा कि शहर को स्वच्छ और सुंदर बनाने के कार्य में सभी की भागीदारी जरूरी है। स्वच्छता अभियान के तहत निगम अपने स्तर से जो कार्य कर रहा है उसके साथ-साथ समाज के सभी वर्गों को भी अपने-अपने स्तर से शहर को स्वच्छ बनाने में अपनी भागीदारी निभाना चाहिए।