गूगल से जानकारी मिल सकती है, लेकिन संस्कार नहीं…

शिक्षक के बताए मार्ग पर चलने वाले विद्यार्थी कभी असफल नहीं होते : डॉ. मिश्रा

ग्वालियर। प्रदेश के गृह, जेल, संसदीय कार्य एवं विधि विधायी मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने कहा है कि गूगल से जानकारी तो मिल सकती है, लेकिन संस्कार और शिक्षा केवल शिक्षकों से ही प्राप्त होती है। शिक्षकों द्वारा बताए हुए मार्ग पर चलने वाले विद्यार्थी कभी जीवन में असफल नहीं होते। गृह मंत्री डॉ. मिश्रा ने शनिवार को डबरा के शासकीय कन्या उ.मा. विद्यालय में आयोजित समारोह में छात्राओं को संबोधित करते हुए यह बात कही। 

शासकीय कन्या विद्यालय में सरस्वती माँ की महाआरती एवं छप्पन भोग के कार्यक्रम में भाजपा जिला अध्यक्ष ग्रामीण कौशल शर्मा, पूर्व मंडी अध्यक्ष मुकेश गौतम, एसडीएम प्रदीप कुमार शर्मा, जिला शिक्षा अधिकारी विकास जोशी, स्कूल के प्राचार्य बी.के. पिपरौलिया सहित जनप्रतिनिधि, शिक्षक और बड़ी संख्या में छात्रायें उपस्थित थीं। गृह मंत्री डॉ. मिश्रा ने सरस्वती माँ की वंदना की और छप्पन भोग लगाया। इसके पश्चत उन्होंने विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए कहा कि आज के बच्चे खुशनसीब हैं जो आधुनिक समय में पैदा हुए हैं। 

आज के समय में मोबाइल, कम्प्यूटर एवं आधुनिक तकनीक उपलब्ध हैं। मोबाइल के माध्यम से विद्यार्थी कोई भी जानकारी गूगल के माध्यम से तत्काल प्राप्त कर सकते हैं। उन्होंने विद्यार्थियों से कहा कि उनके लिए खुला आसमान है, वे अपने जीवन का लक्ष्य निर्धारित करें और पूरी शिद्दत के साथ उसे प्राप्त करने का प्रयास करें। सच्चे मन से किया गया प्रयास कभी भी विफल नहीं होता है। 

गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने छात्राओं से यह भी कहा कि टीव्ही और मोबाइल का उपयोग अच्छाई के लिये और ज्ञान बढ़ाने के लिये किया जाना चाहिए। आज के समय में टीव्ही ने विद्यार्थियों से उनका ग्राउण्ड छीन लिया है। बच्चों को पढ़ाई के साथ-साथ अपने शारीरिक और मानसिक विकास के लिये खेलकूद के लिये भी नियमित समय निकालना चाहिए। कार्यक्रम में जिला शिक्षा अधिकारी विकास जोशी ने गृह मंत्री को स्कूल की ओर से स्मृति चिन्ह भेंट किया और पुष्प-गुच्छ से उनका स्वागत किया।