गिरोह के चार सदस्य ठगी की रकम सहित गिरफ्तार…

धोखाधड़ी एवं ठगी कर लोगों से पैसे ऐंठने वाले गिरोह का पर्दाफाश

ग्वालियर। दिनांक 07.09.2021 को थाना झांसीरोड क्षेत्रान्तर्गत गालव हाँस्पिटल बसंत विहार चेतकपुरी ग्वालियर में अपनी पत्नि का इलाज कराने आये एक व्यक्ति से कुछ अज्ञात बदमाशों द्वारा हाँस्पिटल के बाहर लकी ड्रा निकालने के बहाने 55 हजार रूपये की धोखाधड़ी कर ठगी कर ली थी।  जिस पर से थाना झांसीरोड में अज्ञात चार आरोपियों के खिलाफ 420 भादवि का प्रकरण पंजीबद्व कर विवेचना में लिया गया था। उक्त ठगी की घटना की गंभीरता को देखते हुये पुलिस अधीक्षक ग्वालियर अमित सांघी द्वारा थाना प्रभारी झाँसीरोड को आरोपीगण की शीघ्र गिरफ्तारी करने हेतु निर्देशित किया। जिसके तारतम्य में अति. पुलिस अधीक्षक शहर पूर्व ग्वालियर राजेश दण्डौतिया एवं नगर पुलिस अधीक्षक विश्वविद्यालय रत्नेश सिंह तोमर के निर्देशन में थाना झाँसीरोड पुलिस द्वारा मुखबिर की सूचना के आधार पर दीगर राज्य उत्तर प्रदेश के निवासी 04 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया। 

उक्त आरोपियों द्वारा ग्वालियर के अलावा अन्य दीगर जिलों एवं दीगर राज्यों में भी इसी तरह की बारदातें करना स्वीकार किया। पकड़े गये आरोपियों से धोखाधड़ी पूर्वक ठगी गई रकम 40,000/- रुपये तथा घटना में प्रयुक्त 01 साईकिल एवं 01 मोटर साईकिल जब्त की गई। ज्ञात हो कि दिनांक 07.09.2021 को फरियादी विजयराम प्रजापति निवासी मानकापुरा गोरमी जिला भिण्ड ने थाना झांसीरोड आकर रिपोर्ट की थी कि मैने अपनी पत्नी महादेवी को इलाज कराने गालव हाँस्पिटल बसंत विहार चेतकपुरी ग्वालियर में दिनांक 06.09.2021 को भर्ती किया था। उसी दिन शाम करीब साढे चार बजे हाँस्पीटल के बाहर एक साइकिल वाला आया और अपनी साइकिल कुछ दूरी पर खडी कर इशारे से मुझे अपने पास बुलाया।

उसके बाद एक आॅटो से तीन व्यक्ति आये जो साईकिल वाले व्यक्ति से 20-20 रुपये में पर्चियाँ लेकर लकी ड्रा निकालने लगे और रुपये जीतने लगे तभी उनको देखकर साईकिल वाले व्यक्ति के कहने पर उसके झाँसे में आकर उन व्यक्तियों के लिये लकी ड्रा की पर्ची खींची तो वह 150 रुपये जीत गया और फिर साईकिल वाले ने मुझसे पूछा तुम्हारे पास कितने पैसे हैं, तो मैने कहा कि मेरे पास 5000/- है और उसके कहने पर मैने उसको पांच हजार रुपये दे दिये इस प्रकार मेरे पास रखे 50,000/- रुपये और उसको दे दिये और उसके बाद वह चारों व्यक्ति वहाँ से निकल गये। मै अकेला हक्का-बक्का खडा रह गया। मुझे थोडी देर समझ नही मेरे साथ क्या हुआ फिर पूरी घटना अपनी बच्ची को बताई। चारों लोगों ने मेरे साथ धोखाधडी कर मेरे से 55,000 रुपये लेकर चले गये। फरियादी की उक्त रिपोर्ट पर से थाना झाँसीरोड पर अपराध क्रमांक 469/2021 धारा 420,34 भा.द.वि. का पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया था।