जम्मू कश्मीर में आम नागरिकों की हत्या के बीच…

एक्शन मोड में सरकार, गृहमंत्री ने बुलाई बड़ी बैठक

नई दिल्ली। जम्मू कश्मीर में नागरिकों की हत्या की बढ़ती घटनाओं के बीच सरकार एक्शन में है। बड़ी खबर ये है कि राष्ट्रीय सुरक्षा के मुद्दे पर गृह मंत्री अमित शाह सभी राज्यों के डीजीपी और आईजी के साथ बैठक करेंगे। ये बैठक दोपहर दो बजे शुरू होगी। राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल भी इस बैठक में होंगे। जम्मू कश्मीर में टारगेटेड किलिंग मामले में गृह मंत्रालय की पैनी नजर बनाए हुए हैं। गृह मंत्रालय सूत्रों के मुताबिक गृह मंत्रालय ने सीआरपीएफ के डीजी  कुलदीप सिंह को जम्मू कश्मीर भेजा है। कुलदीप सिंह NIA के भी डीजी हैं। 

सूत्रों के मुताबिक जम्मू कश्मीर में IB, NIA, सेना, CRPF के सीनियर अधिकारी इस समय कैम्प कर रहे हैं, जो हर एक इंटेलिजेंस इनपुट्स को मॉनिटर कर रहे हैं। सूत्रों के मुताबिक आतंकी सुरक्षा बलों ऑपरेशन की बौखलाहट में टारगेटेड किलिंग कर रहे हैं। पिछले 9 दिनों में सुरक्षा बलों ने अलग अलग मुठभेड़ में 13 आतंकी को ढेर किया है। इस साल जनवरी से लेकर अब तक के आँकड़ों के मुताबिक जहां 132 से ज्यादा आतंकियों को सुरक्षा बलों ने ऑपरेशन में मारा है। वहीं 254 आतंकियो को गिरफ्तार भी किया गया है। 

आंकड़ों के मुताबिक सुरक्षा बलों ने इस साल 30 सितंबर तक 105 AK-47 राइफेल, 126 पिस्टल और 276 हैंड ग्रेनेड बरामद कर चुके हैं। 126 पिस्टल की बरामदगी से साफ पता चलता है कि आतंकी हमले के लिए छोटे हथियारों का ज्यादा इस्तेमाल कर रहे हैं। पिछले साल आतंकियों के पास से 163 पिस्टल बरामद हुए थे, जबकि साल 2019 में 48 और 2018 में कुल 27 पिस्टल आतंकियो से जब्त किए गए थे। इस साल 38 ऐसे मामले सामने आए हैं जिसमे आतंकी सुरक्षा बलों पर अचानक हमला बोल घटना की जगह से फरार हो गए।