लखीमपुर हिंसा के मामले में अजय मिश्र को बर्खास्त करवाने…

किसानों का रेल रोको आंदोलन जारी, 4 ट्रेनों के रूट बदले

लखीमपुर हिंसा के मामले में संयुक्त किसान मोर्चा का आज (सुबह 10 से शाम 6 बजे तक) देश भर में रेल रोको आंदोलन चल रहा है। मोर्चे का कहना है कि लखीमपुर मामले की निष्पक्ष जांच तब तक नहीं हो सकती, जब तक केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्र को बर्खास्त नहीं किया जाता। संगठन के नेताओं की मांग है कि मिश्र को मंत्रिमंडल से हटाने के बाद उन्हें गिरफ्तार भी किया जाए। मोर्चा ने लखीमपुर मामले को नरसंहार बताया है। अमृतसर में किसान रेलवे ट्रैक पर ही धरना दे रहे हैं। किसानों के आंदोलन के चलते दिल्ली से रोहतक, पानीपत, सोनीपत, कुरुक्षेत्र, कैथल, बहादुरगढ़, अंबाला, जालंधर, लुधियाना, चंडीगढ़, अमृतसर, जम्मू, मेरठ, गाजियाबाद, शामली, सहारनपुर, मुरादाबाद समेत कुछ नजदीकी सेक्शंस पर रेल ट्रैफिक पर ज्यादा असर पड़ा है। 

इन रूट्स पर इससे पहले भी कई बार अलग-अलग जगहों पर किसान रेलवे ट्रैक जाम कर चुके हैं। इस प्रदर्शन का ज्यादा असर उत्तर प्रदेश के पश्चिमी जिलों में देखने को मिल रहा है। किसानों ने मुजफ्फरनगर में रेलवे ट्रैक को जाम कर दिया है। इससे कई गाड़ियों की रफ्तार थम गई है। गाजियाबाद में भी किसानों ने ट्रेनें रोकी हैं। हालांकि, बुलंदशहर में हरपाल गुट ने रेल रोको आंदोलन निरस्त कर दिया है। किसानों के आंदोलन के मद्देनजर रेलवे स्टेशन और ट्रैक पर फोर्स की तैनाती की गई है। उत्तर प्रदेश के ADG लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार ने बताया कि आंदोलन को देखते हुए 44 कंपनी PAC और 4 कंपनी अर्ध सैनिक बलों की तैनाती की गई है। पश्चिमी UP के 14 संवेदनशील जिलों में सीनियर IPS की तैनाती पहले से चल रही है। 

इन 4 ट्रेनों के रूट बदले-

  • लखनऊ जंक्शन से जाने वाली 05086 लखनऊ-मैलानी विशेष गाड़ी सीतापुर में शार्ट टर्मिनेट होगी।
  • मैलानी से जाने वाली 05085 मैलानी-लखनऊ विशेष गाड़ी सीतापुर से चलाई जाएगी।
  • गोरखपुर से चलने वाली 05009 गोरखपुर-मैलानी विशेष गाड़ी को लखनऊ में शार्ट टर्मिनेट किया गया।
  • मैलानी से छूटने वाली 05010 मैलानी-गोरखपुर विशेष गाड़ी लखनऊ जंक्शन से चलाई जाएगी।
  • मथुरा में किसान नेताओं को शांति बनाए रखने की समझाइश देते पुलिस अफसर।
  • मथुरा में किसान नेताओं को शांति बनाए रखने की समझाइश देते पुलिस अफसर।

संयुक्त किसान मोर्चा ने बताया कि लखीमपुर खीरी किसान हत्याकांड के शहीदों की अस्थियों के साथ उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, हरियाणा, पंजाब और दूसरे राज्यों में शहीद कलश यात्राएं निकाली जा रही हैं। इस यात्राओं से भारी संख्या में लोग जुड़ रहे हैं। किसान नेताओं ने चेतावनी दी है कि रेल रोको आंदोलन के बाद भी अगर उनकी मांगे नहीं मानी गईं, तो आंदोलन को और तेज कर दिया जाएगा। इसे लेकर देशभर के किसान नेता मीटिंग करके आगे की रणनीति बनाएंगे। 3 अक्टूबर को लखीमपुर में किसानों ने केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्र का विरोध करते हुए काले झंडे दिखाए थे। इसी दौरान एक गाड़ी ने किसानों को कुचल दिया था। इससे 4 किसानों की मौत हो गई थी। इसके बाद भड़की हिंसा में किसानों ने एक ड्राइवर समेत चार लोगों को पीट-पीटकर मार डाला था। इस हिंसा में एक पत्रकार भी मारा गया। इस मामले में केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्र टेनी के बेटे आशीष मिश्र समेत 14 लोगों के खिलाफ हत्या और आपराधिक साजिश का केस दर्ज किया गया है।