शीघ्र प्रारंभ होगा 250 पलंगों का अस्पताल…

संभागायुक्त ने एक हजार बिस्तर के अस्पताल के साथ ही जेएएच का किया निरीक्षण 

ग्वालियर। ग्वालियर में बन रहे एक हजार बिस्तर के अस्पताल में 250 पलंग का अस्पताल शीघ्र प्रारंभ होगा। अस्पताल प्रारंभ करने की सभी व्यवस्थायें 20 सितम्बर तक पूर्ण करने के निर्देश संभागीय आयुक्त आशीष सक्सेना ने दिए हैं। उन्होंने गुरूवार को एक हजार बिस्तर के अस्पताल, सुपर स्पेशिलिटी अस्पताल, कमलाराजा अस्पताल के साथ ही रेडक्रॉस के माध्यम से मानसिक आरोग्यशाला की महिलाओं के लिये संचालित लाँग स्टे होम का भी अवलोकन किया। संभाग आयुक्त आशीष सक्सेना ने जेएएच परिसर पहुँचकर सर्वप्रथम एक हजार बिस्तर के अस्पताल का अवलोकन किया। उन्होंने पीआईयू सेल के अधिकारियों को निर्देशित किया है कि 250 बिस्तर के अस्पताल का शुभारंभ शीघ्र किया जाना है।  20 सितम्बर तक सभी व्यवस्थायें पूर्ण कर ली जाएँ। निरीक्षण के दौरान डीन मेडीकल कॉलेज डॉ. समीर गुप्ता, अधीक्षक जेएएच डॉ. आर के एस धाकड़, पीआईयू सेल के श्री अष्ठपुत्रे सहित विभागीय अधिकारी उपस्थित थे। 

संभाग आयुक्त श्री सक्सेना ने निरीक्षण के दौरान डीन मेडीकल कॉलेज एवं अधीक्षक जेएएच से कहा है कि 250 बिस्तर के अस्पताल के संचालन के लिये पलंगों के साथ-साथ उपकरणों की व्यवस्था और आईसीयू की सभी व्यवस्थायें भी पूर्ण कर ली जाएँ। उन्होंने यह भी निर्देशित किया है कि एक हजार बिस्तर के अस्पताल में पार्किंग की व्यवस्था भी शीघ्र प्रारंभ की जाए। ताकि 250 बिस्तर के अस्पताल के संचालन के बाद पार्किंग की कोई समस्या न आए। संभागीय आयुक्त श्री सक्सेना ने इसके पश्चात सुपर स्पेशिलिटी अस्पताल पहुँचकर वहाँ की व्यवसथाओं के संबंध में जानकारी प्राप्त की। सुपर स्पेशिलिटी अस्पताल में आने वाले मरीजों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधायें उपलब्ध हों यह सुनिश्चित करने के निर्देश भी दिए। सुपर स्पेशिलिटी अस्पताल में उपलब्ध आधुनिक उपकरणों का मानव सेवा के लिये बेहतर उपयोग हो, इसके लिये भी कार्य करने की आवश्यकता बताई। उन्होंने कमलाराजा अस्पताल का भी निरीक्षण किया और चिकित्सकों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। 

संभाग आयुक्त आशीष सक्सेना ने अस्पताल परिसर में रेडक्रॉस समिति के माध्यम से संचालित लाँग स्टे होम का भी अवलोकन किया। मानसिक आरोग्यशाला में स्वस्थ हुई महिलाओं को अस्पताल के बाहर अच्छे वातावरण में जब तक उनके परिजन उन्हें ले नहीं जाते तब तक रूकने के लिये लाँग स्टे होम का संचालन किया जा रहा है। संभागीय आयुक्त श्री सक्सेना ने रेडक्रॉस समिति के सचिव आर पी शर्मा से लाँग स्टे होम में की गई व्यवस्थाओं के संबंध में जानकारी ली। महिलाओं के लिये संचालित स्टे होम की व्यवस्था के साथ पुरूषों के लिये भी नया स्टे होम संचालित करने की बात कही। उन्होंने गुरूवार दोपहर को मानसिक आरोग्यशाला का भी अवलोकन किया और मानसिक आरोग्यशाला के सामने संचालित रैन बसेरा को देखा। रैन बसेरा में पुरूषों के लिये लाँग स्टे होम संचालित करने की बात भी कही। डीन मेडीकल कॉलेज एवं अधीक्षक जेएएच ने अस्पताल परिसर में स्वास्थ्य के क्षेत्र में किए गए सुधार कार्य के संबंध में विस्तार से जानकारी दी। इसके साथ ही एक हजार बिस्तर अस्पताल में 250 पलंगों का अस्पताल शीघ्र प्रारंभ करने के लिये की जा रही व्यवस्थाओं के संबंध में भी बताया।