मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दी जानकारी…

राज्य में जल्द ही 1 लाख पदों पर जल्द शुरू होंगी भर्तियां

मध्य प्रदेश सरकार जल्द ही राज्य में 1 लाख पदों को भरने के लिए भर्ती प्रक्रिया शुरू करेगी। इस बात की जानकारी राज्य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दी है। उन्होंने बताया कि रोजगार के अवसर पैदा करने के साथ-साथ उद्यमिता, स्वरोजगार को भी बढ़ावा देने के लिए भर्तियां निकालीं जा रही हैं। मध्य प्रदेश सरकार के जनसंपर्क निदेशालय ने कहा कि निजी क्षेत्र में भी रोजगार के बड़े अवसर दिए जाएंगे। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि राज्य सरकार की पहली प्राथमिकता रोजगार है। 

औद्योगिक विकास और संबंधित निवेश की गति को तेज किया गया है। पिछले 17 महीनों में कोरोना महामारी के बावजूद 384 इकाइयों को 840 एकड़ जमीन आवंटित की गई थी। इसके परिणामस्वरूप 11,000 करोड़ रुपये का पूंजी निवेश और 22,000 नौकरियां दी गई। औद्योगिक इकाइयों की संख्या में 48 प्रतिशत, भूमि आवंटन में 32 प्रतिशत, पूंजी निवेश में 33 प्रतिशत और देश में रोजगार सृजन में 38 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। 

राज्य सरकार ने सामान्य वर्ग के कल्याण, शिक्षा और रोजगार की योजना बनाने के लिए रविवार को सामान्य श्रेणी आयोग का गठन किया था। चौहान ने कहा कि श्रम आधारित उद्योगों को बढ़ावा दिया जा रहा है ताकि राज्य में ज्यादा से ज्यादा नौकरियाें की संभावना निर्मित हो। इसके आलावा अलग-अलग सेक्टर जैसे फार्मा, ऑटो, टेक्सटाईल एण्ड गामेर्ंटस, फूड-प्रोसेसिंग, इंजीनियरिंग प्रोडक्टस आदि के उद्योगों को राज्य में निवेश करने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है। 

इसके अलावा प्रदेश में सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योगों के क्लस्टर आधारित विस्तार को प्रोत्साहित किया जा रहा है। इसके अंतर्गत प्रदेश में फनीर्चर, नमकीन, इंजीनियरिंग, टेक्सटाईल, खिलौना, मैकेनिकल, फूड प्रोसेसिंग, एग्रीकल्चर, इलेक्ट्रिकल आदि विभिन्न क्षेत्रों में 13 क्लस्टर विकसित किए जायेंगे।