श्री सक्सेना ने गूगल मीट के जरिए दिए निर्देश…

डैशबोर्ड पर हर दिन निर्धारित समय पर जानकारी अपलोड कराएँ : संभागायुक्त 

मुरैना। अतिवृष्टि एवं बाढ़ से ग्वालियर-चंबल संभाग में हुए नुकसान का सही-सही आंकलन और राहत वितरण पर निगरानी रखने के लिए स्मार्ट सिटी के कंट्रोल एंड कमांड सेंटर द्वारा एक डैशबोर्ड तैयार किया गया है। संभाग आयुक्त आशीष सक्सेना ने गत दिवस गूगल मीट के जरिए ग्वालियर-चंबल संभाग के विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि वे अपने-अपने विभाग से संबंधित जानकारी हर दिन निर्धारित समय पर ऑनलाइन डैशबोर्ड पर अपलोड कराएँ। केन्द्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया की पहल पर स्मार्ट सिटी द्वारा बनाए गए इस डैशबोर्ड को मौसम अनुमान से जोड़ा गया है। 

साथ ही इस पर ग्वालियर-चंबल सम्भाग की प्रमुख नदियों और जलाशयों के जल स्तर की जानकारी भी उपलब्ध रहेगी। डैशबोर्ड पर दोनों संभाग में किसी भी नदी, बांध व जलाशय में जल स्तर बढ़ने की जानकारी उपलब्ध होने से संभावित प्रभावित गाँवों में जल भराव रोकने के उपाय करने के साथ-साथ लोगों को सचेत कर सुरक्षित स्थानों पर पहुँचाया जा सकेगा। मंगलवार को हुई गूगल मीट में संभाग आयुक्त श्री सक्सेना ने दोनों संभागों के सभी जिलों में डैशबोर्ड की जानकारी के लिए एक-एक नोडल अधिकारी नियुक्त करने के निर्देश दिए। साथ ही कहा है कि संभागीय उप आयुक्त डैशबोर्ड पर जानकारी प्राप्त करने के लिए सभी अधिकारियों से समन्वय करें। 

गूगल मीट में संभाग आयुक्त आशीष सक्सेना ने यह भी निर्देश दिए कि ग्वालियर- चंबल संभाग में बाढ़ से प्रभावित सभी गाँवों में जल्द से जल्द सर्वेक्षण का कार्य पूर्ण कर राहत वितरण शुरू करें। उन्होंने कहा सर्वेक्षण का कार्य पूरी पारदर्शिता के साथ किया जाए। इसके लिए प्रभावित गांव में विशेष शिविर लगाकर लोगों से दावे-आपत्तियां प्राप्त करें और उनका निराकरण भी साथ-साथ किया जाए। श्री सक्सेना ने कहा इस कार्य में किसी प्रकार की ढिलाई न हो। संभागायुक्त आशीष सक्सेना ने दोनों संभागों के सभी जिलों में कोरोना टीकाकरण अभियान में और तेजी लाने पर विशेष बल दिया। उन्होंने कहा कि हर दिन के लिए निर्धारित लक्ष्य की हर हाल में पूर्ति होना चाहिए।