श्री तोमर ने स्वास्थ्य केन्द्रों का किया निरीक्षण…

संक्रमण की चैन को तोड़ने का दायित्व हम सबको निभाना होगा : ऊर्जा मंत्री 

ग्वालियर। कोविड-19 संक्रमण की चैन को तोड़ने का दायित्व सरकार के साथ-साथ समाज के हर व्यक्ति का है। चैन को तोड़ने के लिये लागू किए गए जनता कर्फ्यू का हम सब पालन करेंगे तो कोरोना हारेगा और हम जीतेंगे। प्रदेश के ऊर्जा मंत्री एवं कोविड के लिये जिले के प्रभारी मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने शनिवार को डबरा, भितरवार, मोहना और घाटीगाँव में स्वास्थ्य केन्द्रों का निरीक्षण और कोविड संक्रमण की रोकथाम के लिये किए जा रहे प्रबंधनों की समीक्षा के दौरान यह बात कही। उनके साथ भाजपा ग्रामीण जिला अध्यक्ष कौशल शर्मा सहित विभागीय अधिकारी उपस्थित थे। 

ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने डबरा में कोविड सेंटर, डबरा अस्पताल का निरीक्षण किया और अधिकारियों से चर्चा भी की। उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित किया है कि कोविड संक्रमण की रोकथाम के लिये लॉकडाउन का पालन सख्ती के साथ कराया जाए। इसके साथ ही सम्पूर्ण शहर में सेनेटाइजेशन का कार्य भी नगर पालिका अमला पूरी ताकत के साथ करे। ऊर्जा मंत्री ने अनुविभागीय अधिकारी राजस्व डबरा प्रदीप कुमार शर्मा से कहा कि प्रदेश सरकार एवं केन्द्र सरकार के माध्यम से कोविड कार्यकाल में पाँच माह का जो नि:शुल्क खाद्यान्न मुहैया कराया जा रहा है उसका वितरण हर पात्र हितग्राही को हो, यह सुनिश्चित किया जाए। 

ऊर्जा मंत्री ने कहा है कि डबरा क्षेत्र में सभी उचित मूल्य दुकानों के माध्यम से पात्र हितग्राहियों को पाँच माह का नि:शुल्क खाद्यान्न वितरण करने का कार्य सर्वोच्च प्राथमिकता से किया जाए। उन्होंने यह भी निर्देशित किया है कि प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा कहा गया है कि आयुष्मान कार्ड धारकों को नि:शुल्क उपचार दिलाया जाए। इस योजना में अब परिवार के किसी भी सदस्य के पास आयुष्मान कार्ड होने पर उसके पूरे परिवार को नि:शुल्क उपचार की सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है। डबरा क्षेत्र में जिन परिवारों के पास भी आयुष्मान कार्ड हैं उन्हें कोविड का नि:शुल्क उपचार मिले यह सुनिश्चित किया जाए। 

ऊर्जा मंत्री ने अस्पताल के साथ-साथ डबरा क्षेत्र में स्थापित किए गए कोविड केयर सेंटरों का भी अवलोकन किया और वहाँ पर व्यवस्थाओं को और बेहतर करने के निर्देश दिए। चिकित्सकों की कमी पर उन्होंने कहा कि जहाँ संभव हो वहाँ कॉन्ट्रेक्ट बेस पर आरएमपी डॉक्टरों को रखने की व्यवस्था भी की जाए। डबरा अस्पताल में सफाई कर्मियों को समय पर वेतन न मिलने की शिकायत पर उन्होंने अनुविभागीय अधिकारी राजस्व को निर्देशित किया कि सभी सफाई कर्मियों को समय पर वेतन मिले यह सुनिश्चित किया जाए। जिन लोगों का वेतन रूका हुआ है उन्हें तत्काल वेतन दिलाने की कार्रवाई भी की जाए।