महाराष्ट्र से आने वालों को किया जाएगा क्वारंटीन…

मध्य प्रदेश सरकार का बड़ा फैसला

भोपाल: मध्य प्रदेश सरकार ने कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते खतरे को देखते हुए भोपाल, इंदौर सहित 14 जिला प्रशासनों को  ज्यादा सावधानी बरतने को कहा है। इसके साथ ही राज्य सरकार ने आदेश दिया है कि महाराष्ट्र से आने वाले यात्रियों की थर्मल स्क्रीनिंग की जाए और उन्हें 7 दिनों के जरूरी क्वारंटीन में भेजा जाए। मध्य प्रदेश सरकार ने कहा, "भोपाल, इंदौर और 12 अन्य जिलों के प्रशासन को अतिरिक्त सावधानी बरतने के निर्देश दिए गए हैं। महाराष्ट्र से आने वाले यात्रियों को थर्मल स्क्रीनिंग से गुजरना होगा और 7 दिनों के अनिवार्य क्वारंटीन से गुजरना होगा।" गौरतलब है कि पड़ोसी राज्य महाराष्ट्र में कोरोना वायरस संक्रमण बहुत तेजी से बढ़ रहा है। महाराष्ट्र में रविवार को कोरोना वायरस के 16,620 नए मामले सामने आए, जो इस साल एक दिन में सामने आए सर्वाधिक नए मामले हैं। 

साथ ही राज्य में कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 23,14,413 तक पहुंच गई। स्वास्थ्य विभाग ने यह जानकारी दी। विभाग ने कहा कि इसी अवधि में कोविड-19 के 50 मरीजों की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 52,861 हो गई। महाराष्ट्र में पिछले दो दिन से 15,000 से अधिक नए मामले सामने आ रहे थे और रविवार को यह आंकड़ा 16,000 के पार चला गया। विभाग के मुताबिक, राज्य में 8,861 मरीजों के संक्रमण से उबरने के बाद अब तक 21,34,072 लोग स्वस्थ हो चुके हैं। राज्य में स्वस्थ होने की दर 92.21 फीसदी है जबकि मृत्यु दर 2.28% है। मध्य प्रदेश में रविवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 743 नए मामले आने के साथ ही प्रदेश में वायरस से अब तक संक्रमित पाए गए लोगों की कुल संख्या 2,68,594 पहुंच गयी। 

राज्य में पिछले 24 घंटों में इस बीमारी से प्रदेश में दो और व्यक्तियों की मौत हुई है। प्रदेश में अब तक इस बीमारी से मरने वालों की संख्या 3,887 हो गयी है। मध्य प्रदेश स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि प्रदेश में कुल 2,68,594 संक्रमितों में से अब तक 2,59,987 मरीज स्वस्थ होकर घर चले गये हैं और 4,740 मरीज़ों का इलाज विभिन्न अस्पतालों में चल रहा है। उन्होंने कहा कि रविवार को 513 रोगियों को ठीक होने के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई। अधिकारी ने बताया कि प्रदेश में रविवार को कोविड-19 के 263 नये मामले इंदौर में आये, जबकि भोपाल में 139 और जबलपुर में 45 नये मामले आये।