बढ़ते हुए कोरोना संक्रमण को लेकर कलेक्टर ने ली बैठक…

मास्क न लगाने वालों से जुर्माना वसूलें : श्री सिंह

ग्वालियर। कोरोना संक्रमण की रफ्तार बढ़ना चिंताजनक है। इस पर नियंत्रण के लिये सभी एहतियाती कदम उठाए जाएँ। कोरोना स्क्वॉयड सक्रिय होकर कोरोना गाइडलाइन का पालन कराएँ और मास्क न लगाने वाले लोगों से जुर्माना भी वसूलें। इस आशय के निर्देश कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने इंसीडेंट कमांडर सहित अन्य संबंधित अधिकारियों को दिए। जिले में लगातार बढ़ रहे कोरोना संक्रमण को ध्यान में रखकर कलेक्ट्रेट के सभागार में शुक्रवार को आयोजित हुई बैठक में कलेक्टर श्री सिंह ने निर्देश दिए कि जिस क्षेत्र में अधिक संख्या में कोरोना संक्रमित मरीज मिल रहे हैं वहाँ पर बैरीकेटिंग अवश्य कराई जाए। 

साथ ही कोविड-19 संक्रमण से संबंधित पेम्प्लेट भी घर पर प्रदर्शित कराएँ। उन्होंने यह भी निर्देश दिए कि कोरोना से संक्रमित हरेक मरीज की कंट्रोल कमाण्ड सेंटर के जरिए प्रॉपर मॉनीटरिंग की जाए और जो मरीज अपने घर पर ही आईसोलेशन में हैं उनके घर पर ही दवाएँ उपलब्ध कराई जाएँ। श्री सिंह ने ग्रामीण क्षेत्र में जरूरत के मुताबिक कोविड सेंटर स्थापित कराने के निर्देश संबंधित एसडीएम को दिए। 

कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने सभी इंसीडेंट कमांडर को निर्देश दिए कि वे अपने साथ संलग्न चिकित्सकों के साथ समन्वय स्थापित कर पूर्व की भाँति कोरोना संक्रमित मरीजों के इलाज की प्रॉपर व्यवस्था कराएँ। उन्होंने निर्देश दिए कि कोरोना की जाँच के लिये लिए जा रहे प्रत्येक सेम्पल के साथ वार्ड क्रमांक सहित सम्पूर्ण पता अवश्य दर्ज किया जाए। कलेक्टर ने कहा कि कोरोना संक्रमित मरीज से चर्चा कर उसके संपर्क में आए लोगो की जानकारी लें और सभी के सेम्पल लिए जाएँ। 

साथ ही कहा जो कोरोना संक्रमित मरीज सरकारी एम्बूलेंस से अस्पताल जाना चाहें, उन्हें एम्बूलेंस अनिवार्यत: उपलब्ध कराई जाए। श्री सिंह ने जोर देकर कहा कि जिले के सभी फीवर क्लीनिक सुव्यवस्थित ढंग से चलें। बैठक में नगर निगम आयुक्त शिवम वर्मा, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी किशोर कान्याल, अपर कलेक्टर आशीष तिवारी, रिंकेश वैश्य व टी एन सिंह, जिले के सभी एसडीएम, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मनीष शर्मा तथा इंसीडेंट कमांडर, निजी अस्पतालों के प्रतिनिधियों सहित अन्य संबंधित अधिकारी मौजूद थे।