लोग शोर मचाते रहें, बस चालक भाग निकला…

शिक्षिका के सिर के ऊपर से पहिया निकाल कर भागा तेज़ रफ़्तार बस चालक

ग्वालियर। एक बस चालक ने शिक्षिका को कुचलकर जान ले ली है। बस ड्रायवर ने तेज रफ्तार में एक्टिवा सवार शिक्षिका को टक्कर मार दी है। वह उछलकर सड़क पर जा गिरी। भागने के चक्कर में बस चालक ने रफ्तार बढ़ा दी और पहिया सिर के ऊपर से गुजर गया है। घटना सोमवार की सुबह पुरानी छावनी में आनंदपुर ट्रस्ट के पास हुई है। वह सेंट जॉनवियानी स्कूल में पढ़ाती थी। वह अपनी नंनद के साथ गाड़ी पर सवार होकर स्कूल जा रही थी। पुलिस ने शव को निगरानी में लेकर पोस्टमार्टम कराया है और साथ ही बस चालक की तलाश शुरू कर दी है।

बहोड़ापुर थाना क्षेत्र के शीलनगर निवासी 35 वर्षीय एलिजाबेथ जोसेफ पत्नी हनि जोसेफ टीचर हैं। वह मुरैना रोड पर सेंट जॉन वियानी स्कूल में शिक्षिका हैं। उनकी ननद भी इसी स्कूल में पढ़ाई हैं। सोमवार की सुबह वह अपनी ननद के साथ एक्टिवा से स्कूल जाने के लिए निकली थीं। गाड़ी एलिजाबेथ की ननद चला रही थीं। अभी वह स्कूल से कुछ ही दूरी पर थी कि तभी तेज रफ्तार आ रही सत्यम बस सर्विस की बस के चालक ने लापरवाही से चलाते हुए पीछे से टक्कर मार दी। टक्कर इतनी तेज थी कि एलिजाबेथ उछलकर नीचे गिरीं और भागने के प्रयास में बस चालक उनके ऊपर से पहिया निकालकर ले गया। शिक्षिका ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। ननद को भी चोंटें आई हैं। 

हादसे का पता चलते ही पुलिस मौके पर पहुंची। जांच के बाद शव पोस्टमॉर्टम हाउस भेज दिया। पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपी चालक की तलाश शुरू कर दी है। घटना के बाद वहां से गुजर रहे लोगों ने शोर मचाया कि बस चालक को पकड़ों, लेकिन बस चालक रोकने के लिये आवाज लगाई। लेकिन चालक रूका नहीं और अपनी बस को भगा ले गया। वैसे शिक्षिका की जान बच जाती, लेकिन भागने के चक्कर में बस चालक ने रफ्तार बढ़ा दी और शिक्षिका के सिर के ऊपर पहिया गुजर गया और कुछ वाहन चालकों ने बस चालक का पीछा करने का प्रयास किया लेकिन वह हाथ नहीं आया।