मौके पर पहुंची पुलिस ने छात्रों के शव पीएम हाउस पहुंचाए…

केंद्रीय विद्यालय के पास दर्दनाक सड़क हादसे में 2 छात्रों की मौत

ग्वालियर। सोमवार सुबह हुए एक दर्दनाक सड़क हादसे में केंद्रीय विद्यालय क्रमांक 1 के 2 छात्रों की दुर्घटना में दर्दनाक मौत हो गई सुबह के समय छात्र घर से स्कूल आ रहे थे तभी यह हादसा हुआ । दोनों स्कूल से बाइक की टेस्ट ड्राइव के लिए निकले थे। स्कूल वापस आते, उसके पहले ही एक अज्ञात वाहन ने टक्कर मार दी। बाइक बेकाबू होकर डिवाइडर पर चढ़ी और सार्वजनिक शौचालय से जा टकराई। दोनों दीवार से टकरा गए। सिर में गंभीर चोट लगने से मौके पर ही दोनों ने दम तोड़ दिया। दोनों छात्र अपने-अपने परिवार के इकलौते बेटे थे। वे KV-1 (केंद्रीय विद्यालय ) में क्लास 9वीं के छात्र थे। घटना ग्वालियर के थाटीपुर होटल रमाया के पास सोमवार सुबह की है। थाटीपुर थाना क्षेत्र के न्यू जीवाजी नगर निवासी दिव्यांशु सोलंकी पुत्र राकेश सिंह सोलंकी (17) KV में 9वीं कक्षा का छात्र था। 

आज उसका आखिरी पेपर था। यहां पर उसका मित्र आशीर्वाद राजपूत पुत्र ओमप्रकाश राजपूत (17) मिला। आशीर्वाद अपने पिता की बाइक से स्कूल आया था। स्कूल में एंट्री में 20 मिनट का समय बचा था। इसलिए वे बाइक चलाने के लिए निकल गए। अभी वह रमाया होटल के पास पहुंचे ही थे कि अज्ञात वाहन ने पीछे से उनकी बाइक में टक्कर मार दी। बाइक अनियंत्रित होकर डिवाइडर पर चढ़ते हुए सार्वजनिक शौचालय से जा टकराई। दीवार से दोनों के सिर टकराने से मौके पर ही मौत हो गई। राहगीरों ने पुलिस और एंबुलेंस को सूचना दी। सूचना मिलते ही थाटीपुर थाना पुलिस के साथ ही DSP नरेश अन्नोटिया मौके पर पहुंचे। 

छात्रों के शवों को डायल 100 से अस्पताल के लिए रवाना किया। हादसे का पता चलते ही माता-पिता व अन्य भी मौके पर पहुंच गए। अपने बेटों को मृत देखकर बदहवास हो गए। अस्पताल में जो भी कर्मचारी आता वे उसके पैरों में गिरकर अपने बच्चों का उपचार करने के लिए कहते रहे। इस दौरान उनके साथ आए लोग भी अपने आंसू नहीं रोक पाए। बताया गया है कि दोनों ही छात्रों को बाइक चलाने का शौक था। आज भी वे सुबह आठ बजे स्कूल पहुंच गए थे, लेकिन स्कूल में एंट्री सुबह 8:20 पर थी तो दोनों बाइक की राइडिंग के लिए निकल गए। रमाया होटल के पास अज्ञात वाहन ने उन्हें टक्कर मार दी और दोनों की मौके पर मौत हो गई।

ग्वालियर पुलिस की संवेदना आज फिर नजर आई सही कहा है "सिर्फ वर्दी ही नहीं,,हम दर्दी भी" आज जब होटल रामाया के पास एक्सीडेन्ट में 2 युवकों की मौत हो गई इस से क्षेत्र में सनसनी फैल गई मॉर्निंग गस्त के दौरान वहीं से गुजर रहे ट्रैफिक DSP  नरेश बाबू अन्नोटिया ने जब ये नजारा देखा तो उनसे रहा नहीं गया और उन्होंने पुलिस स्टाफ की मदद से दोनों युवकों के शवों को खुद उठवा कर गाड़ी में रखवाया ठाठीपुर थाना से चंद दूरी पर हुए इस दर्दनाक हादसे के आधा घंटा तक क्षेत्र की पुलिस मौके पर नहीं पहुंची थी सूत्रों की माने तो एक्सीडेन्ट होने के 5 मिनिट बाद ही 108 एंबुलेंस मौके पहुंच गई थी पर कुछ देर रुकने के बाद वह भी चली गई उसमें बैठे स्टाफ ने कहा कि इन दोनों की मृत्यु हो चुकी है हम इन्हें नही ले जा सकते ।