सैंपल देने वाला हर 10वां व्यक्ति संक्रमित…

जिले में बुधवार को मिले 120 नए कोरोना संक्रमित

प्रदेश में एक बार फिर कोरोना संक्रमण बेकाबू होता जा रहा है। लगातार बढ़ रहे केस से मुख्यमंत्री पल-पल बैठकें ले रहे है। बुधवार को ग्वालियर में कोरोना संक्रमण का ब्लास्ट हुआ है। एक दिन पहले 60 संक्रमित मिले थे, लेकिन बुधवार को अचानक दोगुना 120 संक्रमित निकले हैं। 134 दिन बाद कोरोना ने ग्वालियर में शतक लगाया है। इससे पहले नवंबर 2020 में 100 से ज्यादा संक्रमित मिले थे। इसके साथ ही ग्वालियर में कुल संक्रमित का आंकड़ा 19165 पर पहुंच गया है। जिला प्रशासन और पुलिस प्रशासन भी लगातार बढ़ रहे मामलों को लेकर अलर्ट मोड़ में आ गए हैं। प्रदेश में कोरोना की दूसरी लहर के कारण संक्रमितों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। 

विशेषकर महाराष्ट्र की सीमा से लगे शहरों में स्थिति और भी ज्यादा खराब है। मंगलवार को मध्य प्रदेश की महाराष्ट्र सीमा सील कर दी गई है। साथ ही प्रदेश में सबसे पहले भोपाल, इंदौर व जबलपुर में एक दिन का लॉकडाउन लगाया गया था, अब स्थिति बिगड़ने पर 12 से ज्यादा शहर तक यह लॉकडाउन पहुंच गया है। इन 12 शहरों में शहर शहर भी शामिल है। यहां हर दिन के साथ कोरोना संक्रमित की संख्या बढ़ती ही जा रही है। मंगलार को जहां 60 संक्रमित मिले थे वहीं बुधवार को 60 नए संक्रमित मिले हैं। जिसके बाद कुल संक्रमित का आंकड़ा बढ़कर 19165 हो गया है। अभी तक कुल मौत 316 ही हैं। अस्पतालों में सैंपलिंग के लिए पहुंच रहे लोगों में हर 10वां व्यक्ति संक्रमित निकल रहा है। क्योंकि बुधवार को 1235 सैंपल में से 120 की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव पाई गई है।

 इस तरह से आंकड़ा चला तो स्थिति आने वाले दिनों में काफी बिगड़ सकती है। इसके साथ ही जिले में अब कुल एक्टिव केस की संख्या बढ़कर 612 हो गई है। बुधवार को 1541 लोगों के सैंपल लिए गए हैं। साथ ही 36 संक्रमित डिस्चार्ज किए गए हैं। लगातार बढ़ रहे संक्रमितों को रोकने के लिए जिला प्रशासन, पुलिस व नगर निगम अलर्ट मोड़ में आ गए है। शहर के सभी नाकों, स्टेशन व एयरपोर्ट पर थर्मल स्क्रीनिंग की जा रही है। हिस्ट्री रिकॉर्ड की जा रही है। पुलिस ने सड़कों पर मास्क न पहनने वालों पर चालान कर रही है। बीते 7 दिन में 3500 से ज्यादा चालान मास्क न पहनने वालों के किए गए हैं।