स्मार्ट सिटी के इंटेलीजेंट ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम…

इर्मजेंसी बॉक्स के बटन को दबाते ही मिल सकेगी तुरन्त सहायता : श्रीमती सिंह

ग्वालियर। ग्वालियर स्मार्ट सिटी द्वारा आइटीएमएस परियोजना के माध्यम से शहर के मुख्य चौराहों तिराहो पर नागरिकों को व्यवस्थित यातायात सुविधाओं के साथ ही सुरक्षा और आपात स्थिती में तुरन्त सहायता मिल सके इसके लिये कई प्रवाधान किये गये है। इंटेलीजेंट ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम के माध्यम से शहर के व्यस्त मार्गों व चौराहों पर यातायात को सुगम बनाने के लिये आधुनिक तकनीक से सुधार किये जा रहे हैं। इस परियोजना में यातायात को सुगम बनाने के लिये जहाँ आधुनिक ऑटोमैटिड ट्रैफ़िक लाइट्स, मार्ग के अनुरूप डिवाइडर, ज़ेब्रा क्रॉसिंग आदि को विशेष तकनीक की सहायता से विकसित किया गया है 

वही सुरक्षा की दृष्टी और अन्य आपात स्थिती में तुरन्त सहायता प्राप्त करने के लिये प्रत्येक जंक्शन पर इमरजेंसी कॉल बॉक्स सहीत पब्लिक एड्रैस सिस्टम को भी जोडा जा रहा है।  जंक्शन पर लगे इमरजेंसी काँल बाँक्स के माध्यम से एक पेनिक बटन दबा कर तुरन्त सहायता प्राप्त की जा सकती है। स्मार्ट सिटी सीईओ जयति सिंह नें जानकारी देते हुये बताया कि इंटेलीजेंट ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम के तहत लगाया गया इर्मजेंसी कॉल बॉक्स आम नागरिको के लिये बहुत ही उपयोगी है। 

ग्वालियर में आइटीएमएस सिस्टम के माध्यम से 20 चौराहो और तिराहो पर इस इमरजेंसी काँल बाँक्स को लगाया गया है बाकि शेष जंक्शनो पर भी इसे लगाने का कार्य किया जा रहा है। जो जल्द ही पूरा कर लिया जायेगा। श्रीमती सिंह नें बताया कि चौराहों तिराहो पर आईटीएमएस के साथ लगे इर्मजेंसी कॉल बॉक्स का उपयोग बहुत ही आसान है। इसमें लगे एक लाल बटन को दबाते ही कॉल द्वारा स्मार्ट सिटी कंट्रोल रूम में बात की जा सकती है, जहाँ अपनी समस्या बता कर यथासंभव तत्काल समाधान प्राप्त किया जा सकता है, वही ईसीबी बाँक्स के माध्यम से किसी भी प्रकार की आपात स्थिति जैसे एक्सीडेंट, चोरी, झगड़ा, छेड़छाड़ एवं अन्य घटनाओं की भी सूचना तत्काल दे कर सहायता प्राप्त की जा सकती है। 

इमरजेंसी कॉल बॉक्स हर वर्ग खासकर महिलाओ को सुरक्षात्मक माहौल प्रदान करने में भी काफी उपयोगी है। श्रीमती सिहं नें बताया कि आम लोग याताय़ात नियमो को लेकर जागरुक होने के साथ आईटीएमएस सिस्टम के इन खास सुरक्षात्मक फीचरो से भी परिचित हो इसके लिये पब्लिक एड्रैस सिस्टम का भी प्रयोग किया जा रहा है वही समय समय पर स्मार्ट सिटी द्वारा जनजागरुकता अभियान भी चलाये जा रहे है ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग यातायात नियमो के पालन करने को लेकर जागरुक होने के साथ इन सुरक्षात्मक फीचरो का लाभ उठा सके।