रेस्क्यू में जुटे आर्मी और पुलिस के जवान…

प्रदेश के निवाड़ी जिले में 200 फीट गहरे बोरवेल में गिरा बच्चा

मध्य प्रदेश के निवाड़ी जिले के सेतपुरा गांव में 200 फीट गहरे बोरवेल में गिरे बच्चे को 33 घंटे बाद भी नहीं निकाला जा सका है। 5 साल का प्रहलाद कुशवाह बुधवार सुबह 9 बजे अपने ही परिवार के खेत के बोरवेल में गिर गया था। आर्मी उसके रेस्क्यू में जुटी है। आर्मी ने पास ही 55 फीट का गड्ढा खोज लिया है और अब सुरंग बनाने के लिए मशीन का इंतजार हो रहा है, जो झांसी से आ रही है।

बोरवेल में कैमरा डालकर बच्चे की स्थिति पर नजर रखने की कोशिश की जा रही है। बोरवेल से 40 फीट दूर पैरेलर खुदाई की जा रही है। करीब 45 फीट की खुदाई हो चुकी है। अनुमान है कि बच्चा 50-60 फीट नीचे फंसा हो सकता है। रेस्क्यू टीम को उम्मीद है कि कुछ घंटे में बच्चे को निकाल लिया जाएगा।

ऑक्सीजन सिलेंडर के साथ डॉक्टर्स की टीम मौके पर है। कलेक्टर आशीष भार्गव और SP वाहिनी सिंह भी मौके पर हैं। पूरा गांव बच्चे के बाहर निकाले जाने का इंतजार कर रहा है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी ट्वीट कर बच्चे की सलामती की प्रार्थना की है।

बुधवार सुबह 9 बजे प्रहलाद बोरवेल में गिरा।

परिजन ने 10 बजे डायल 100 पर जानकारी दी।

10.30 बजे SDM, तहसीलदार और थाना प्रभारी मौके पर पहुंचे।

12 बजे कलेक्टर और SP मौके पर गए और रेस्क्यू टीम को जानकारी दी।

दोपहर 1 बजे बबीना से लेफ्टिनेंट कर्नल केके गौतम मौके पर पहुंचे।

2.30 बजे बबीना से 16 सदस्यीय टीम रेस्क्यू टीम , झांसी से 3 सदस्यीय नाइट विजन टीम और टीकमगढ़ से NDRF की 7 सदस्यीय टीम मौके पर पहुंची।

शाम 6 बजे तक बोरवेल से 30 मीटर दूर से करीब 30 फीट गहरी टनल खोदी गई।

गुरुवार सुबह 10 बजे तक रेस्क्यू टीम ने उम्मीद जताई कि दोपहर तक बच्चे को निकाल लिया जाएगा।