ईव्हीएम ले जाने वाले वाहनों में रहेगा जीपीएस सिस्टम…

मतदान केंद्रों की व्यवस्थाएं करें चाक-चैबंद : जिला निर्वाचन अधिकारी

मुरैना। विधानसभा उप चुनाव के लिए मतदान का समय नजदीक आ गया है सभी मतदान केंद्रों पर आवश्यक व्यवस्थाएं समय से पहले पूर्ण कर ली जावे, इसके लिए सभी संबंधित क्षेत्र के अधिकारी अपने-अपने क्षेत्र के मतदान केंद्रों पर जाकर व्यवस्थाओं का निरीक्षण कर जो भी कार्य शेष रह गए हो उन्हें तत्काल पूर्ण करावें। यह निर्देश कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी अनुराग वर्मा ने आज नवीन कलेक्ट्रेट सभागार में निर्वाचन की समीक्षा बैठक में संबंधित रिटर्निंग आफीसर एवं चुनाव कार्यो से जुड़े नोडल अधिकारियों को दिए। आयोजित समीक्षा बैठक में कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी अनुराग वर्मा ने समस्त नगरीय निकाय एवं जनपद सीईओ को निर्देश दिये कि मतदान दल 2 नवंबर को दोपहर में मतदान केन्द्र पर पहंुच जायेंगे। 

उनके लिये 2 नवंबर को दल पहुंचते ही नाश्ता, रात्रि का भोजन, 3 नवंबर को सुबह का नाश्ता दोपहर का भोजन मिलना और शाम को स्नेक्स चाय आदि दी जाये। साथ ही उनके रूकने के लिये विस्तर की व्यवस्था सुनिश्चित की जाये। इसके प्रबंध अभी से कर लिये जायें। मुझे किसी भी मतदान दल का फोन नहीं आये कि इस मतदान केन्द्र पर कोई कमी है। उन्होंने कहा कि पोलिंग पार्टी के अलावा मतदान दल पर फोर्स भी रूकेगा। उन सभी के खाने का प्रबंध तीनों समय होना चाहिये। उन्होंने कहा कि 2 नवंबर को पाॅलिटेक्निक और केन्द्रीय विद्यालय से पाॅलिंग पार्टी रवाना होंगी। जिसमें मतदान दल एवं सेक्टर आॅफीसर ईव्हीएम लेकर अपने अपने मतदान केन्द्रों के लिये रवाना होंगे। 

उन वाहनों में जीपीएस सिस्टम लगाये जायेंगे जिससे उन वाहनों की माॅनीटरिंग की जा सके। कहीं भी कोई वाहन खराब होता है या कहीं व्यवधान के कारण वाहन रूकता है तो उसकी लोकेशन जीपीएस सिस्टम से मिलती रहेगी। अगर वाहन आगे नहीं बढ़ता है तो संबंधित वाहन प्रभारी से दूरभाष पर तत्काल संपर्क किया जायेगा। सेक्टर आॅफसर रिजर्व ईव्हीएम को प्राप्त करने के बाद घर या किसी रिश्तेदार के यहां नहीं रूकेंगे जो मतदान केन्द्र निर्धारित रूकने का होगा वहीं रात गुजारनी होगी। कलेक्टर ने कहा कि जिले में एसएसटी/व्हीएसटी की 18 टीम लगी हैं। वे टीमें 24 घंटे सख्ती से कार्य करें। मुझे कहीं से भी कोई भी किसी प्रकार की अवैध सामग्री वितरण होने की शिकायत नहीं मिलनी चाहिये। 

इसी प्रकार उन्होंने आबकारी अधिकारी को निर्देश दिये कि 3 नवंबर को होने वाले चुनाव में शुष्क दिवस के लिये आदेश जारी करायें और अवैध शराब को सख्ती से पकड़कर कार्यवाही करें। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि सीविजिल पर 100 मिनट में शिकायतों का निराकरण करने के निर्देश हैं। इस कार्य को प्राथमिकता से संबंधित आर ओ हल करें। कलेक्टर ने कहा कि मतदान केन्द्र पर हेल्थ वर्कर भी मतदाताओं का थर्मल स्क्रीनिंग का कार्य करेंगे। उनके लिये मतदान केन्द्र के बाहर छांव में दरवाजे से हटकर टेबल, कुर्सी लगायी जाये। एक हैंड उसके लिये नियुक्त किया जाये जिससे आने वाले मतदाता थर्मल स्क्रीनिंग कर सकें। यदि तापमान अधिक आता है तो उसे पास के टेंट में रखी कुर्सियों पर बैठायें। थोड़ी देर बाद उसका टेम्परेचर नाॅर्मल हो सकता है। तभी उसे मतदान के लिये प्रेरित करें।