केंद्र सरकार से…

ग्वालियर को मिलीं हवा को ‘मेडिकल ऑक्सीजन’ में बदलने वाली मशीनें 

कोरोना के गंभीर मरीजों के इलाज के लिए जरूरी ‘मेडिकल ऑक्सीजन’ अब सीधे हवा से ली जाएगी। हर जिले में स्वास्थ्य विभाग ने ‘ऑक्सीजन कंसनट्रेटर’ मशीन भेजी है, जो सीधे हवा से प्रतिमिनट पांच लीटर मेडिकल ऑक्सीजन बनाएगी। एक मशीन दो मरीजों के काम आ सकती है।

एक जिले में कम से कम दो और अधिकतम 20 मशीनें दो दिनों में रवाना की गई हैं। शनिवार को 400 और मशीनें जिलों व मेडिकल कॉलेजों में जाएंगी। किसी भी इमरजेंसी में यह मशीन मरीज को लाभ दे सकती हैं। मेडिकल ऑक्सीजन की संभावित दिक्कत को देखते हुए केंद्र ने मप्र को एक हजार मशीनें दी हैं। ग्वालियर को दो मशीनें दी गईं हैं।

प्रमुख जिले में कितनी

भोपाल में 3, इंदौर में 2, जबलपुर में 9, उज्जैन में 5

यहां सर्वाधिक भेजी

छतरपुर में 23, शहडोल में 20, बालाघाट में 18, गुना में 17, दमोह में 16, शिवपुरी, सतना, राजगढ़ और नरसिंहपुर में 15