काले झंडे दिखाने पहुंचे युवा मोर्चा के कार्यकर्ता…

भाजयुमो ने किया विरोध तो पुलिस ने लाठियां चलाईं

प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष व नेता प्रतिपक्ष कमलनाथ के ग्वालियर आने का विरोध कर रहे भारतीय जनता युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं पर शुक्रवार को पुलिस ने लाठीचार्ज किया। इस लाठीचार्ज में युवा मोर्चा के 3 कार्यकर्ता चोटिल हो गए। कार्यकर्ता पड़ाव चौराहे पर कमलनाथ को काले झंडे दिखाने के लिए जुटे थे। जब रोड शो लोको रोड पर आया तो पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को वापस जाने के लिए कहा।

जिस पर पुलिस और कार्यकर्ताओं के बीच बहस शुरू हो गई। जब कार्यकर्ताओं ने बात नहीं मानी तो पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को खदेड़ने के लिए लाठीचार्ज कर दिया, जिसमें भाजपा सोशल मीडिया के प्रदेश प्रभारी विक्रांत भदौरिया, आलोक श्रीवास्तव, गणेश समाधिया को चोट आई।

लाठीचार्ज के बाद दूसरे भाजपा नेता भी प्रदर्शन स्थल पर पहुंच गए और अधिकारियों से चर्चा के बाद प्रदर्शन खत्म कर दिया गया। प्रदर्शन में विनय जैन, हरीश यादव, गिर्राज व्यास, प्रिंस मझवार, चंद्रप्रकाश मिश्रा आदि मौजूद थे। वहीं भारतीय जनता पार्टी ने फूलबाग चौराहे पर धरना देकर कमलनाथ की यात्रा का विरोध किया। इस धरने में भाजपा नेताओं ने काला मास्क पहनकर विरोध जताया। प्रदेश के ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने कहा कि कमलनाथ ने मुख्यमंत्री रहते हुए ग्वालियर चंबल संभाग के साथ पक्षपात किया।

पार्टी के शहर अध्यक्ष कमल माखीजानी ने कहा कि कमलनाथ ने मुख्यमंत्री बनने के बाद किसान, बुजुर्ग, महिला सभी वर्गों के साथ अन्याय किया। धरने में अभय चौधरी, जयसिंह कुशवाह, सुरेंद्र शर्मा, रामसुंदर रामू, समीक्षा गुप्ता, वेदप्रकाश शर्मा आदि मौजूद थे।