इलाज के दौरान तीन लोगों की मौत…

जिले में मंगलवार को मिले 108 कोरोना पॉजिटिव

जिले में पिछले तीन दिन से लगातार दो सौ का आंकड़ा पार कर रहे कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या पर मंगलवार को ब्रेक लगा है। जीआरएमसी की वायरोलॉजिकल लैब और निजी लैब की रिपोर्ट में 108 नए संक्रमित पाए गए हैं। जबकि जिला हॉस्पिटल मुरार में किट खत्म हो जाने से रैपिड एंटीजन टेस्ट ही नहीं हो सके। इसके साथ ही इलाज के दौरान पांच लोगों की मौत हुई है। इनमें तीन लोग ग्वालियर के हैं। अब मरने वालों की कुल संख्या 82 हो गई है। 

मंगलवार को संक्रमितों की सूची में पीटीएस तिघरा में पदस्थ एएसपी, जेके टायर के डिप्टी जनरल मैनेजर, माधव डिस्पेंसरी की ओपीडी में पदस्थ डाॅक्टर, सिटी सेंटर में निजी स्टोर के पांच कर्मचारी, पड़ाव थाने में पदस्थ दो और गिरवाई थाने का एक पुलिसकर्मी शामिल है। लैंड रिकार्ड कार्यालय में एक सहायक प्रोग्रामर सहित तीन कर्मचारी संंक्रमित मिले हैं। कोरोना संक्रमण के कारण दम तोड़ने वालों में शकुंतला (65) किलागेट, गोपालदास निवासी ग्वालियर, मुरैना की ऊषा जैन (58), अशोकनगर की मथुराबाई (65) शामिल हैं। 

शीतलामाता रोड निवासी रामचरण(90) की भी इलाज के दौरान मौत हुई है। जिला निर्वाचन कार्यालय में चुनाव के दौरान अधिकारियों की ईवीएम की ट्रेनिंग देने वाले मास्टर ट्रेनर वीजी तेलंग का दिल्ली के निजी अस्पताल में निधन हो गया। वे 17 अगस्त को ग्वालियर के निजी अस्पताल में भर्ती हुए थे। यहां कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद उन्हें दिल्ली ले जाया गया था। 

भाजपा महिला मोर्चा की जिला उपाध्यक्ष किरण कुशवाह पत्नी हरिओम कुशवाह की इलाज के दौरान मौत हो गई। मौत के बाद आई जांच रिपोर्ट में उनके कोरोना संक्रमण के शिकार होने की पुष्टि हुई। इसके साथ ही जिले में पहली बार एक ही दिन में 66 नए मरीज सामने आए हैं। मुरैना में 9, भिंड में 7, श्योपुर में 8 और दतिया में 7 नए कोरोना पॉजिटिव मिले हैं।