श्री कुशवाह ने विकास कार्यों की समीक्षा बैठक में दिए निर्देश…

शहर के ग्रामीण वार्डों में भी अमृत योजना के तहत कराएँ कार्य : राज्यमंत्री

ग्वालियर। उद्यानिकी एवं खाद्य प्रसंस्करण राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) भारत सिंह कुशवाह ने कहा है कि ग्वालियर शहर में शामिल हुए ग्रामीण क्षेत्र के सभी 6 वार्डों (वार्ड-61 से 66) में पेयजल, सीवर व कचरा प्रबंधन इत्यादि काम प्रमुखता से कराए जाएं। उन्होंने कहा शहर में शामिल हुए जिन गाँवों में संभव हो वहाँ अमृत योजना के तहत तथा शेष गाँवों में मुख्यमंत्री शहरी पेयजल योजना के तहत पेयजल संबंधी काम कराएँ। श्री कुशवाह ग्वालियर शहर में शामिल हुए गाँवों, छावनी क्षेत्र तथा मुरार ग्रामीण व घाटीगाँव क्षेत्र के विकास कार्यों की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा सड़कों सहित अन्य निर्माण कार्यों में गुणवत्ता के साथ कोई समझौता न हो। बैठक में कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह व नगर निगम आयुक्त संदीप माकिन सहित अन्य संबंधित अधिकारी मौजूद थे। 

बुधवार को यहाँ कलेक्ट्रेट के सभागार में आयोजित हुई बैठक में राज्य मंत्री भारत सिंह कुशवाह ने नगर निगम आयुक्त से कहा कि शहर में शामिल हुए गाँवों को भी अमृत योजना से जोड़ने के लिए प्रस्ताव तैयार करें। साथ ही जो गाँव पहले से ही अमृत योजना के दायरे मे आते हैं उनमें पेयजल, सीवर व स्वच्छता से संबंधित अन्य काम प्राथमिकता के आधार पर कराएँ। उन्होंने कहा शहर की अन्य बस्तियों की तरह शहरी क्षेत्र में शामिल गाँवों में भी कचरा संग्रहण के लिये नियमित रूप से वाहन पहुँचें। राज्य मंत्री श्री कुशवाह ने मुख्यमंत्री अधोसंरचना विकास योजना के तहत निर्माणाधीन वीरपुर रोड़ पर पोल शिफ्टिंग में हो रही देरी पर नाराजगी जताई। उन्होंने निर्देश दिए कि यह काम जल्द से जल्द पूर्ण कराएँ। श्री कुशवाह ने शहरी क्षेत्र के गाँवों में प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत सभी पात्र परिवारों को लाभान्वित कराने पर भी जोर दिया। 


साथ ही कहा कि प्रदेश सरकार संबल योजना के तहत सभी जरूरतमंदों को सहायता पहुँचाने के लिए कटिबद्ध है। इसलिए इस योजना के सभी पात्र परिवारों को सहायता मिलने में देरी न हो। उन्होंने ग्रामीण क्षेत्र के सभी 6 वार्डों के सभी पात्र परिवारों को खाद्यान्न पर्ची मुहैया कराने एवं उन्हें उचित मूल्य की दुकान से राशन दिलाने के लिए भी कहा। छावनी क्षेत्र में मूलभूत सुविधाओ के लिए मंजूर हुई धनराशि खर्च न होने पर राज्य मंत्री श्री कुशवाह ने असंतोष व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि राशि के सदुपयोग के लिए दूसरी एजेन्सी से छावनी क्षेत्र में काम कराए जाएँ, जिससे यहाँ के निवासियों को अच्छी बुनियादी सुविधाएँ मिल सकें। 

श्री कुशवाह ने विधानसभा क्षेत्र ग्वालियर ग्रामीण के अंतर्गत आने वाले विकासखण्ड घाटीगाँव के गाँवों एवं विकासखण्ड मुरार में चल रहे विकास कार्यों की समीक्षा भी बैठक में की। साथ ही निर्देश दिए कि जो कार्य पूरे हो चुके हैं उनका लोकार्पण कराएँ जिससे इन कामों का उपयोग जनहित में हो सके। उन्होंने कहा नए कार्यों का भूमिपूजन कराकर उन्हें जल्द से जल्द शुरू कराएँ। श्री कुशवाह ने मुरार व घाटीगाँव क्षेत्र में निर्माणाधीन पीडब्ल्यूडी की सड़कों सहित अन्य विकास कार्यों की भी बैठक में समीक्षा की। साथ ही कार्यों को तेजी के साथ पूर्ण कराने के निर्देश दिए। कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने सभी संबंधित अधिकारियों को हिदायत दी कि बैठक में दिए गए निर्देशों का समय-सीमा में पालन सुनिश्चित करें। बैठक में नगर निगम, पंचायत एवं ग्रामीण विकास, छावनी बोर्ड, लोक निर्माण, जल संसाधन, कृषि, सहकारिता तथा अन्य संबंधित विभागों के अधिकारी मौजूद थे।