की परीक्षाएं रद्द करने की मांग…

NEET/JEE के मुद्दे पर जीतू पटवारी ने CM शिवराज को लिखी चिट्ठी

इंदौर। मेडिकल के लिए नेशनल एलिजिबिलिटी कम एंट्रेस टेस्ट (NEET) और इंजीनियरिंग के लिए होने वाले ज्वाइंट एंट्रेंस एग्जाम (JEE) को लेकर देश भर में छात्रों का विरोध प्रदर्शन होने जा रहा है. वहीं विपक्षी दल भी इस मुद्दे पर अपनी आवाज उठा रहे हैं. मध्य प्रदेश के पूर्व मंत्री व प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्यक्ष जीतू पटवारी ने इस मामले को लेकर सीएम शिवराज सिंह चौहान को पत्र लिखा है. पटवारी ने सीएम शिवराज से ये परीक्षाएं रद्द कराने की मांग की है. प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्यक्ष जीतू पटवारी ने सीएम शिवराज सिंह चौहान को पत्र में लिखा कि लाखों बच्चों की सेहत का ध्यान रखते हुए NEET और JEE की परीक्षाएं नहीं कराई जानी चाहिए. 

इसके पीछे उन्होंने तेजी फैल रहे कोरोना वायरस के संक्रमण का खतरा बताया है. जीतू पटवारी ने मुख्यमंत्री शिवराज को सुझाव दिया कि वे इस मामले में केंद्र सरकार को पत्र भी लिख सकते हैं. आपको बता दें कि 11 राज्यों के 11 छात्रों ने NEET और JEE की परीक्षाएं स्थगित करने के अनुरोध के साथ सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की थी. सुप्रीम कोर्ट ने परीक्षा स्थगित करने वाली याचिका खारिज कर दी थी. कोर्ट ने कहा था कि कोरोना के कारण छात्रों का कीमती साल बर्बाद नहीं होने दे सकते हैं.JEE की परीक्षा 1 से 6 सितंबर के बीच होगी और NEET की परीक्षा 13 सितंबर को कराई जाएगी. 

वहीं केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा कि अबतक 80 प्रतिशत छात्र NTA JEE Mains 2020 परीक्षा के लिए एडमिट कार्ड डाउनलोड कर लिए हैं. उन्होंने कहा कि इसका मतलब है कि छात्र परीक्षा देने को तैयार हैं. कुल पंजीकृत 8.58 लाख छात्रों में से 7.25 लाख छात्रों ने एडमिट कार्ड डाउनलोड कर लिया है. केंद्र सरकार के रुख के बाद कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने बुधवार को सात राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ वर्चुअली मीटिंग की. इस मीटिंग में नीट-जेईई परीक्षा पर चर्चा हुई. इस मीटिंग में फैसला लिया गया है कि नीट-जेईई परीक्षा कराने के केंद्र सरकार के फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी जाएगी.