एसपी ने कारण बताओ नोटिस जारी कर पद से हटाया…

डीएसबी के प्रभारी के एक पत्र से पुलिस महकमे में मचा हड़कंप 

डीएसबी(डिस्ट्रिक्ट स्पेशल ब्रांच) के प्रभारी के एक पत्र से शुक्रवार को पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। यह पत्र सोशल मीडिया पर भी वायरल हो गया, जिसमें गणेशोत्सव पर शहर में माहौल बिगड़ने की आशंका जाहिर की गई थी। यह पत्र डीएसबी प्रभारी आलोक त्रिवेदी ने एसपी अमित सांघी को बिना बताए ही जारी कर दिया। 

इस लापरवाही पर शाम को ही एसपी अमित सांघी ने कारण बताओ नोटिस जारी किया और उन्हें डीएसबी प्रभारी के पद से हटा दिया। इसकी पुष्टि एसपी ने की है। एसपी अमित सांघी ने बताया कि शुक्रवार दोपहर में डीएसबी प्रभारी आलोक त्रिवेदी की ओर से एक पत्र जारी किया गया। 

यह गोपनीय पत्र था और इसे सोशल मीडिया पर डाल दिया गया। इसमें गणेशोत्सव पर शहर में माहौल बिगड़ने की आशंका जाहिर की गई थी। इसमें भीम आर्मी नाम के संगठन का नाम भी लिखा गया है। इस पत्र में सहायक पुलिस महानिरीक्षक विशेष शाखा भोपाल के पत्र का हवाला दिया गया है। एसपी ने बताया कि इस संबंध में डीएसबी प्रभारी ने उन्हें कोई जानकारी नहीं दी। 

सभी पुलिस अफसरों को यह पत्र जारी कर दिया गया। यह गंभीर लापरवाही है। इस पर डीएसबी प्रभारी को हटाने का निर्णय लिया है। साथ ही उन्हें कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। एसपी ने बताया कि गणेशोत्सव के साथ सभी त्याेहारों को लेकर हम अलर्ट हैं।