म.प्र. के लोकप्रिय राजनेता सिंधिया जी...
सिंधिया के खिलाफ गलत पोस्टर लगाने वाला आरोपी हुआ गिरफ्तार


भाजपा नेता एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के 'लापता' होने संबंधी पोस्टर लगाने के मामले के तूल पकड़ते ही पुलिस प्रशासन भी सक्रिय हुआ और उसने आज देर शाम झांसी रोड थाने में प्राथमिकी दर्ज कर ली। इस मामले में सिद्धार्थ सिंह राजावत नाम के कांग्रेस नेता को गिरफ्तार भी किया गया है। प्रारंभिक जांच में पता चला है कि विवादित पोस्टर राजावत ने ही लगाया है। इस मामले की शिकायत भाजपा नेता कमल माखीजानी और अन्य नेताओं ने की थी। 

इसके बाद झांसी रोड थाने में प्राथमिकी दर्ज कर ली गयी। प्रारंभिक जांच के बाद राजावत को गिरफ्तार किया गया है। इस बीच स्थानीय कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने कहा कि ये भाजपा का दोहरा चरित्र है। छिंदवाडा में पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ और सांसद नकुलनाथ के लापता होने वाले पोस्टर लगाने वाले भाजपाइयों के खिलाफ पुलिस ने मामला दर्ज नहीं किया। जबकि ग्वालियर में भाजपा नेताओं और सिंधिया समर्थकों के दबाब में पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया। 

ग्वालियर में भाजपा नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया के लापता होने संबंधी पोस्टर लगे होने की सूचना के बाद सोशल मीडिया में यह मामला दिनभर चर्चाओं में रहा। पोस्टर में 'जनसेवक सिंधिया' को ढूंढने वाले को 5100 रुपये का इनाम देने की बात कही गई थी। ऐसे पोस्टर लगने के बाद भाजपा नेता सक्रिय हुए और पोस्टर को भी हटवाया गया।