कुछ हद तक हमने इस पर काबू पा लिया है…
केन्द्रीय मंत्री श्री तोमर ने कोरोना योद्धाओं को किया सम्मानित

मुरैना। हम सब की अपेक्षा उनको भी कोरोना वायरस का भय था, किन्तु भय होने के बावजूद भी स्वास्थ्य और पुलिसकर्मियों ने अपने पदीय दायित्वों बखूबी निर्वहन किया। इसके साथ ही विभिन्न समाज, संगठनों ने इसमें दान, श्रम करके अपना योगदान दिया। जिसका उदाहरण है कि आज मुरैना में अन्य जिलों की अपेक्षा स्थिति नियंत्रण एवं संतोषजनक है। यह बात केन्द्रीय कृषि तथा किसान कल्याण, पंचायती राज मंत्री एवं क्षेत्रीय सांसद नरेन्द्र सिंह तोमर ने व्ही.आई.पी. रोड़ पर नव-निर्मित जीवाजी क्लब में कोरोना योद्धाओं के सम्मान समारोह में कही। 

इस अवसर पर कलेक्टर प्रियंका दास, पुलिस अधीक्षक डाॅ. असित यादव, भाजपा जिलाध्यक्ष योगेश पाल गुप्ता, पूर्व विधायक एवं मंत्री रूस्तम सिंह, पूर्व विधायक गजराज सिंह, शिवमंगल सिंह, सूवेदार सिंह, सभापति अनिल अल्ली, निर्वाचित प्रतिनिधि, विभिन्न समाजेसवी एवं दान-दाता, स्वास्थ्य, पुलिस एवं नगर निगम कमिश्नर अमरसत्य गुप्ता सहित अन्य विभागों के अधिकारी, कर्मचारी उपस्थित थे। केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने कहा कि जिन लोंगो ने कोरोना वायरस में योद्धा की तरह कार्य किया है। उन्हें आज हम सम्मानित कर रहे है। 

उन्होंने कहा कि विभिन्न वर्ग एवं संगठनों ने कोरोना के समय दान, राशन, नगद राशि प्रदान की है। वे भी सम्मान के हकदार है। उन्होंने कहा कि 95 कोरोना योद्धाओं को सम्मानित किया है। इनके द्वारा सराहनीय कार्य किया है। कोरोना महामारी संकट का दौर है, कुछ हद तक हमने इस पर काबू पा लिया है। मंत्री श्री तोमर ने कहा कि चाहे स्वास्थ्य कर्मी हो, पुलिस, सफाई कर्मी जिम्मेदारी सभी की अपनी-अपनी थी। इसके साथ ही प्रदेश सरकार ने 3 महीने का राशन पीडीएस की दुकान से वितरित करा दिया था। 

इसके बावजूद भी कई ऐसे परिवार थे, जो बीपीएल की सूची में नहीं थे, उन्हें भी केन्द्र सरकार के मार्गदर्शन में 5 किलो गेहूं और दालों का वितरण कराया गया। मंत्री श्री तोमर ने कहा कि ऐसी स्थिति में किसानों को भी ह्रदय से बधाई देता हूं। जिन्होंने कोरोना संकट में फसल कटाई की पिछले वर्ष की अपेक्षा इस वर्ष 45 प्रतिशत अधिक फसल हुई है। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस का संकट अभी टला नहीं है, लेकिन आर्थिक गतिविधियों को लम्बे समय तक बंद नहीं किया जा सकता। इन्हें शनैःशनैः खोलने का प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि हमें जिम्मेदारी का आभास प्रत्येक लोंगो को रखना चाहिये। समाजसेवी हो, पंचायत निर्वाचित प्रतिनिधि हो। 

उन सभी को सोशल डिस्टेंस का पालन करना चाहिये। उन्होंने आरोग्य ऐप को मोबाइल पर डाउनलोड करने की बात कही। कार्यक्रम में कलेक्टर प्रियंका दास ने कहा कि कोरोना महामारी में स्वास्थ्य, पुलिस, राजस्व सहित अन्य विभागों ने पद के अनुरूप महत्वपूर्ण जिम्मेदारी का निर्वहन किया है। ये बधाई के पात्र है। जिनका आज केन्द्रीय मंत्री के करकमलों द्वारा सम्मान किया जा रहा है।