चक्रवात से हुए नुकसान का लेंगे जायजा…
आज पीएम मोदी करेंगे ओडिशा और पश्चिम बंगाल का दौरा

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चक्रवात 'उम्पुन' प्रभावित ओडिशा और पश्चिम बंगाल का हवाई दौरा करेंगे. दोनों ही राज्यों में आए तूफान की वजह से भारी नुकसान हुआ है. पश्चिम बंगाल में 72 लोगों की मौत हुई है. मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने इसकी जानकारी देते हुए आज ही बताया कि वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से हालात का जायजा लेने के लिए आग्रह करेंगी. इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर कहा था कि चक्रवात से प्रभावित लोगों की मदद के लिए कोई कोर कसर बाकी नहीं छोड़ी जाएगी.

पश्चिम बंगाल में सौ साल के अंतराल में आए इस भीषण चक्रवाती तूफान ने मिट्टी के घरों को ताश के पत्तों की तरह उड़ा दिया, फसलों को नष्ट कर दिया और पेड़ों, बिजली के खंभों को भी उखाड़ फेंका है. इसने ओडिशा में भी भारी तबाही मचाई है जहां तटीय जिलों में विद्युत और दूरसंचार से जुड़ा आधारभूत ढांचा नष्ट हो गया है.

ओडिशा के अधिकारियों के आकलन के अनुसार, चक्रवात से लगभग 44.8 लाख लोग प्रभावित हुए हैं. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक करने के बाद संवाददाताओं से कहा, ‘‘अब तक हमें मिली खबरों के अनुसार, चक्रवात  'उम्पुन' के चलते 72 लोगों की मौत हुई है. दो जिले-उत्तर और दक्षिण 24 परगना पूरी तरह तबाह हो गए हैं. हमें उन जिलों का पुनर्निर्माण करना होगा. मैं केंद्र सरकार से आग्रह करूंगी कि वह राज्य को सभी सहायता उपलब्ध कराए.’’

उन्होंने कहा, ‘‘मैं बहुत जल्द प्रभावित इलाकों का दौरा करूंगी. बहाली कार्य जल्द शुरू होंगे. उत्तर और दक्षिण 24 परगना, कोलकाता के एक बड़े हिस्से में कल शाम से बिजली गुल है. यहां तक कि टेलीफोन और मोबाइल फोन सेवाएं भी ठप हैं.’’ बनर्जी ने कहा, ‘‘मैंने अपने जीवन में ऐसा भीषण चक्रवात और नुकसान कभी नहीं देखा.'' मुख्यमंत्री ने मृतकों के परिजनों को दो से ढाई-ढाई लाख रुपये तक का मुआवजा देने की भी घोषणा की. उत्तर और दक्षिण 24 परगना, कोलकाता के अतिरिक्त पूर्वी मिदनापुर और हावड़ा जिले भी बुरी तरह प्रभावित हुए हैं जहां कई जगहों पर इमारतें नष्ट हो गई हैं.